बिहार: आज से नाइट कर्फ्यू,श्रद्धालुओं के लिए मंदिर बंद, ऑनलाइन कर सकते हैं दर्शन

Ruchi Sharma, Last updated: Thu, 6th Jan 2022, 9:37 AM IST
  • बिहार में 21 जनवरी तक महावीर मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद किया गया है. वहीं पटना जंक्शन स्थित हनुमान लला के दो विग्रहों वाले महावीर मंदिर का कपाट श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा. हालांकि हनुमान लला के दर्शन ऑनलाइन कर सकते हैं. नैवेद्यम काउंटर भी खुले रहेंगे.
बिहार: आज से नाइट कर्फ्यू,श्रद्धालुओं के लिए मंदिर बंद, ऑनलाइन कर सकते हैं दर्शन

पटना. राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए बिहार सरकार ने नई गाइडलाइंस जारी कर दी है. नाइट कर्फ्यू के साथ-साथ कई नियमों में बदलाव किया गया है. इसी क्रम में 21 जनवरी तक महावीर मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद किया गया है. वहीं पटना जंक्शन स्थित हनुमान लला के दो विग्रहों वाले महावीर मंदिर का कपाट श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा. हालांकि हनुमान लला के दर्शन ऑनलाइन कर सकते हैं. नैवेद्यम काउंटर भी खुले रहेंगे.

इस दौरान मंदिर के पुजारी निर्धारित समय अनुसार आरती, भोग इत्यादि संपन्न करेंगे. महावीर मंदिर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने कहा कि जिन भक्तों ने उक्त अवधि के लिए रुद्राभिषेक समेत अन्य कर्मकांडों की बुकिंग करायी है वे जमा की गई राशि वापस ले सकते हैं. भक्त चाहें तो अपनी बुकिंग को मंदिर खुलने पर उपयोग में ला सकते हैं.

 

बिहार: 84 साल के बुजुर्ग ने 11 बार लगवाया कोरोना वैक्सीन, कहा- खत्म हो गई बीमारी

 

टीवी पर कर सकते हैं लाइव दर्शन

आचार्य किशोर कुणाल जानकारी देते हुए बताया कि जियो टीवी पर महावीर मंदिर का सीधा प्रसारण सुबह पट खुलने से रात्रि पट बंद होने तक किया जाता है. जो भक्त मंदिर बंद रहने के कारण हनुमान लला का दर्शन करना चाहते हैं, वे जियो टीवी पर लाइव दर्शन कर सकते हैं. मंदिर के बंद होने के बावजूद भक्तों को नैवेद्यम मिलता रहेगा. महावीर मंदिर के प्रवेश द्वार और निकास द्वार के पास स्थित नैवेद्यम काउंटर शाम आठ बजे तक खुले रहेंगे.

आज से नाइट कर्फ्यू

बता दें कि कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामले को देखते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में गुरुवार 6 जनवरी से 21 जनवरी तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा. यह रात के 10 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक प्रभावी रहेगा. नाइट कर्फ्यू के अलावा राज्य के सभी जिम, मॉल, मंदिर और पार्क आदि को भी बंद कर दिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें