सुशांत सिंह केस में जांच करने गए SP को भारी फजीहत के बाद मुंबई पुलिस ने दी गाड़ी

Smart News Team, Last updated: 04/08/2020 09:11 AM IST
  • सुशांत सिंह राजपूत केस में जांच करने मुंबई गए एसपी विनय तिवारी को भारी फजीहत के बाद मुंबई पुलिस ने गाड़ी दे दी है. हालांक विनय तिवारी अभी क्वारंटाइन में हैं इसलिए वो अभी गाड़ी इस्तेमाल नहीं करेंगे.
सुशांत सिंह केस में जांच करने गए SP को भारी फजीहत के बाद मुंबई पुलिस ने दी गाड़ी

सुशांत सिंह राजपूत केस में मुंबई पुलिस की फजीहत हो रही है. दरअसल, मुंबई पुलिस पर जांच में सहयोग ना देने के आरोप भी लग रहे हैं. पटना एसपी विनय तिवारी के जांच करने के लिए मुंबई जाने पर उन्हें गाड़ी ना देने की भी सोशल मीडिया पर चर्चा हुई. हालांकि अब मुंबई पुलिस ने पटना के एसपी सिटी विनय तिवारी को सोमवार की शाम गाड़ी दी है. उन्हें कहा गया कि अब वे गाड़ी की सुवधा ले सकते हैं।

बता दें कि एसपी विनय तिवारी फिलहाल क्वारंटीन में हैं. लिहाजा फिलहाल गाड़ी उनके किसी काम के लिए नहीं है. इससे पहले मुंबई पुलिस ने एसपी को गाड़ी नहीं दी थी. सूत्रों की मानें तो मुंबई पुलिस जल्द ही एसपी को सुरक्षागार्ड भी दे सकती है. इससे पहले दिनभर मुंबई पुलिस की कार्यशैली को लेकर देशभर में विरोध होता है. कई तरह के सवाल महाराष्ट्र पुलिस के बड़े अधिकारियों पर उठने लगे.

सुशांत सिंह केस: मुंबई में क्वारंटीन पटना एसपी को लेकर बिहार DGP का बड़ा बयान

बता दें कि एसपी विनय तिवारी को जबरन क्वारंटाइन करने के भी आरोप मुंबई पुलिस पर लगे. हालांकि अधिकारियों ने इस पर कहा कि विनय तिवारी को बीएमसी ने क्वारंटाइन किया है और इसमें मुंबई पुलिस का कोई हाथ नहीं है. वहीं विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे खासा नाराज हैं.

सुशांत के पिता का खुलासा- बेटे को था खतरा, फरवरी में मुंबई पुलिस से मांगी थी मदद

दूसरी ओर विनय तिवारी को क्वारंटाइन से निकाल कर केस की जांच शुरू करने की अनुमति देने की भी मांग की गई है. कहा जा रहा है कि नियमों के अनुसार विनय तिवारी को क्वारंटाइन करना गलत है. मुंबई में पटना एसआईटी अपनी जांच कर रही है और एसपी विनय तिवारी उनका सहयोग देने के लिए मुंबई गए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें