पटना लाया जाएगा रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर, दीघा घाट पर दाह संस्कार

Smart News Team, Last updated: 08/10/2020 11:45 PM IST
  • पटना में शनिवार को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का दीघा घाट पर दाह संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा. शुक्रवार को उनका पार्थिव शरीर दिल्ली से पटना लाया जाएगा.
पटना लाया जाएगा रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर, दीघा घाट पर दाह संस्कार

पटना. केंद्रीय मंत्री और लोजपा संस्थापक रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर शुक्रवार दोपहर को दिल्ली से पटना लाया जाएगा. गुरुवार रात 74 साल की उम्र में उनका निधन हो गया. पिछले कुछ दिनों से वे भर्ती थे और उनका इलाज चल रहा था. बताया जा रहा है कि रामविलास पासवान का पटना में ही शनिवार को दीघा घाट पर उनका दाह संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा.

राज्य की नीतीश कुमार सरकार ने फैसला किया है कि स्वर्गीय रामविलास पासवान का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा. पार्थिव शरीर पार्टी प्रदेश कार्यालय में भी रखा जाएगा, जहां उनके समर्थक और उन्हें चाहने वाले उनका अंतिम दर्शन करेंगे.

रामविलास पासवान: राजनीति के मौसम वैज्ञानिक जिन्होंने पार्टियां छोड़ी, गद्दी नहीं

मालूम हो कि रामविलास पासवान को भारतीय राजनीति का मौसम वैज्ञानिक कहा जाता है. रामविलास पासवान सबसे पहले वीपी सिंह की सरकार में कैबिनेट मंत्री बने. जिसके बाद वे भाजपा, कांग्रेस, राजद और जदयू के साथ कई गठबंधनों में रहे और केंद्र सरकार में मंत्री पद पर बने रहे. साल 2002 में गोधरा कांड को लेकर उन्होंने अटल बिहारी सरकार से मंत्री पद को छोड़कर एनडीए से गठबंधन तोड़ा और यूपीए में आ गए.

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का दिल्ली में निधन, बेटे चिराग ने दी जानकारी

मनमोहन सरकार में भी वे कैबिनेट मंत्री रहे. फिर साल 2014 में उन्होंने यूपीए छोड़कर एनडीए का हाथ थाम लिया. साल 2014 में नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में उन्हें जगह मिली जिसके बाद साल 2019 में भी उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया गया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें