पटना महावीर मंदिर की व्यवस्था में बदलाव, जानें क्या है गाइडलाइन

ABHINAV AZAD, Last updated: Sat, 1st Jan 2022, 12:03 PM IST
  • कोरोना वायरस के कारण पटना महावीर मंदिर की व्यवस्था में बदलाव किया गया है. महावीर मंदिर समेत शहर के विभिन्न मंदिरों में श्रद्धालुओं को बगैर मास्क इंट्री नहीं मिलेगी. साथ ही मंदिरों में लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा.
महावीर मंदिर समेत शहर के विभिन्न मंदिरों में श्रद्धालुओं को बगैर मास्क इंट्री नहीं मिलेगी.

पटना. नए साल के अवसर पर पटना के मदिरों में भक्तों की भाड़ी भीड़ उमड़ रही है. इस बीच कोरोना के मद्देनजर बिहार सरकार ने मंदिरों में भी कोरोना गाइड लाइन का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया है. दरअसल, पटना जंक्शन स्थित मशहूर महावीर मंदिर समेत शहर के विभिन्न मंदिरों में श्रद्धालुओं को बगैर मास्क इंट्री नहीं मिलेगी. साथ ही मंदिरों में लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. वहीं महावीर मंदिर परिसर का पट रात 11 बजे के बाद बंद होगा जबकि मंदिर का पट सुबह 5 बजे आरती मंगल होने के साथ खुल जाएगा.

नए साल को लेकर महावीर मंदिर प्रबंधन की ओर से तकरीबन 11 हजार किलो नैवेद्यम प्रसाद बनाया जाएगा. महावीर मंदिर न्यास समिति के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि अयोध्या धाम से नए साल को लेकर साधु संतों का आगमन होगा. गौरतलब है कि पिछले साल भी नए साल पर अयोध्या धाम से साधु संत आए थे. यह सभी भगवान की आरती मंगल करेंगे. महावीर मंदिर न्यास समिति के सचिव आचार्य किशोर कुणाल के मुताबिक, कोरोना संक्रमण के मद्देनजर मंदिर की ओर से सैनिटाइजर मशीन का इंतजाम किया गया है.

बिहार में अब सरकारी स्कूल की बच्चियां निकालेंगी अखबार, नीतीश सरकार करेगी मदद

मंदिर के आचार्य विवेक द्विवेदी के मुताबिक, कोरोना संक्रमण के कारण गर्भ में एक बार 25 श्रद्धालुओं को दर्शन की अनुमति मिलेगी. मंदिर का द्वार सुबह 7 बजे ही खोल दिया जाएगा जो दोपहर 1 बजे तक खुला रहेगा. इसके बाद दोपहर 3 बजे से शाम 7 बजे तक मंदिर का द्वार खुला रहेगा. साथ ही उन्होंने बताया कि बड़ी पटन देवी मंदिर परिसर में आने वाले श्रद्धालुओं को मास्क लेकर आना होगा. वहीं, मंदिर की ओर से जगह-जगह पर ऑटोमेटिक सेनिटाइजर मशीन भी लगाया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें