पटना

सोमवार से पटना में महावीर, पटन देवी व शीतला मंदिर में दर्शन, आपको यह करना होगा

Smart News Team, Last updated: 05/06/2020 04:38 PM IST
  • कोरोना वायरस संकट के बीच लॉकडाउन 5.0 में 8 जून यानी सोमवार से मंदिर और अन्य धार्मिक स्थलों को भी खोला जाना है। 8 जून से धार्मिक स्थलों को भले ही खोला जा रहा है, मगर कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए केंद्र सरकार द्वारा जारी नियमों मसलन सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने जैसे नियमों पालन भी करना होगा।
Patna Mahavir Mandir

कोरोना वायरस संकट के बीच लॉकडाउन 5.0 में 8 जून यानी सोमवार से मंदिर और अन्य धार्मिक स्थलों को भी खोला जाना है। 8 जून से धार्मिक स्थलों को भले ही खोला जा रहा है, मगर कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए केंद्र सरकार द्वारा जारी नियमों मसलन सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने जैसे नियमों पालन भी करना होगा। ऑनलॉक वन के तहत केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक एसओपी यानी मानक संचालन प्रक्रिया जारी किया है, जिसके मुताबिक कंटेनमेंट जोन के बाहर आने वाले सभी तरह के धार्मिक स्थलों को खोले जाने की इजाजत होगी। मगर कंटेनमेंट जोन में 8 जून से भी कोई धार्मिक स्थल नहीं खुलेंगे। केंद्र सरकार के इस एसओपी का असर पटना के महावीर मंदिर, शीतला माता मंदिर और पटनदेवी मंदिर पर भी पडे़गा, क्योंकि इन मंदिरों में भी भक्तों की बड़ी भीड़ जुटती है।

पटना का महावीर मंदिर (हनुमान मंदिर) भी कोरोना वायरस और लॉकडाउन की वजह से बंद है। एसओपी में जिस तरह से कहा गया है कि धार्मिक स्थलों में भजन गाने वाले ग्रुप्स पर पाबंदी रहेगी और इसके बदले रिकॉर्डेड भजन बजाए जा सकते हैं, पटना महावीर मंदिर में भी ऐसा ही नजारा देखने को मिल सकता है। फिलहाल सरकार ने धार्मिक स्थलों में सामूहिक प्रार्थना करने की अनुमति नहीं दी है और प्रसाद वितरण, पवित्र जल के छिड़काव जैसी चीजों से भी बचने को कहा है। तो चलिए जानते हैं कि अगर आप पटना में हैं और महावीर मंदिर, शीतला माता मंदिर और पटन देवी मंदिर में दर्शन करने और पूजा करने जाना चाहते हैं तो आपको किन-किन नियमों का पालन करना होगा और मंदिरों को भी किन-किन बातों का ख्याल रखना होगा।

8 जून यानी सोमवार से क्या-क्या रखना होगा ध्यान

  • मंदिर में एंट्री के वक्त ही आपको सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना होगा और थर्मल स्क्रीनिंग भी करानी होगी।
  • भक्तों, श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश की अनुमति तभी दी जाएगी, जब उनका चेहरा मास्क से कवर होगा।
  • मंदिरों में आपको मूर्ति या किसी पवित्र चीजों को छूने की मनाही होगी। मंदिर में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।
  • इन मंदिरों में कोरोना वायरस को लेकर जागरूकता से संबंधित पोस्टर चिपकाए जाएंगे। कोरोना वायरस से कैसे बचा जाए, इन जानकारियों का भी प्रदर्शन किया जाएगा। ऐसा सरकार ने अपने दिशा निर्देशों में कहा है।
  • मंदिरों के बाहर भी पार्किंग स्थल और परिसर में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।
  • मंदिरों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो, इसके लिए दूरी वाले चह्न भी बने होने चाहिए।
  • मंदिरों में आने और जाने वालों का रास्ता भी अलग-अलग होगा। यानी प्रवेश और निकाष की लाइनें अलग होंगी।
  • धार्मिक स्थान में लगातार सफाई और सैनेटाइजेशन।
  • समय-समय पर मंदिर के फर्श को अच्छे से साफ किया जाना चाहिए।
  • आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप का उपयोग करें और सभी को सलाह दें।

अन्य खबरें