निपुण भारत: मोबाइल पर गेम खेलते बच्चे करेंगे पढ़ाई, सरकार ला रही डिजिटल पोर्टल

Naveen Kumar, Last updated: Fri, 25th Feb 2022, 9:53 AM IST
  • केंद्र सरकार द्वारा शुरू किए जा रहे निपुण भारत मिशन के लिए बिहार समेत पांच राज्यों का चयन हुआ है. इस प्रोजेक्ट के तहत तीन से नौ वर्ष के बच्चों को खेल आधारित शिक्षा ऑनलाइन मुहैया कराई जाएगी.
फाइल फोटो

पटना. बच्चों को बेहतर शिक्षा के लिए केंद्र सरकार द्वारा गेम आधारित डिजिटल पोर्टल तैयार किया जाएगा. इस प्रोजेक्ट का नाम निपुण भारत मिशन है, जिसमें बिहार समेत पांच राज्यों का चयन हुआ है. इस प्रोजेक्ट के तहत तीन से नौ वर्ष के बच्चों को खेल आधारित शिक्षा ऑनलाइन मुहैया कराई जाएगी. इसके लिए ऑनलाइन डैश बोर्ड तैयार किया जा रहा है. 

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा बिहार के अलावा राजस्थान, झारखंड, आंध्र प्रदेश, हरियाणा को भी शामिल​ किया गया हैं. डिजिटल पोर्टल की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी भी इन्हीं पांच राज्यों की होंगी. पहले चरण के तहत प्री स्कूल नर्सरी, एलकेजी, यूकेजी तथा कक्षा एक के बीच पढ़ाई में समानता लाई जानी है. आपको बता दें कि सितंबर 2021 की शिक्षा मंत्रालय की बैठक में सभी राज्यों से डैश बोर्ड के लिए सुझाव आमंत्रित किए थे. बिहार समेत कई राज्यों ने अपने सुझाव दिए थे. बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के विशेषज्ञ भी इस प्रोजेक्ट के तहत मदद करेंगे.

RBSE Exam Schedule 2022: राजस्थान बोर्ड ने जारी की 10वीं, 12वीं बोर्ड परीक्षा डेटशीट, फुल डिटेल्स

आपको बता दें कि मूलभूत शिक्षा को मजबूत करने के उद्देश्य से नयी शिक्षा नीति के तहत निपुण भारत मिशन शुरू किया गया है. इसे ब्लॉक, जिला, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर लागू किया जाएगा. केंद्र सरकार के इस डिजिटल पोर्टल पर अक्षर, भाषा, संख्या, गिनती, रंग, आकार, इनडोर व आउटडोर खेल, पहेली और तार्किंक सोच, समस्या समाधान, ड्राइंग, पेंटिंग, कला, शिल्प, नाटक, कठपुतली, संगीत आदि खेल व अन्य गतिविधियां करवाई जाएंगी. 

डैश बार्ड पर प्रदेश में प्राथमिक ​स्कूल और शिक्षकों की संख्या, नामांकित बच्चों की संख्या, छत से नौ वर्ष तक के बच्चों की संख्या समेत कई जानकारी देनी है. शिक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों को 28 फरवरी तक सभी आंकड़े पोर्टल पर अपलोड करने को कहा है. बिहार में 57 लाख 84 हजार 330 बच्चे कक्षा एक से तीन तक में नामांकित हैं. राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी किरण कुमारी ने बताया कि निपुण भारत के लिए बिहार का चयन भी हुआ है. इसमें बच्चों को शारीरिक और मानसिक विकास के लिए खेल आधारित गतिविधियां करवाई जाएंगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें