JP यूनिवर्सिटी के PG सिलेबस में जारी रहेगी जेपी और लोहिया विचारों की पढ़ाई: बिहार शिक्षा मंत्री

ABHINAV AZAD, Last updated: Thu, 2nd Sep 2021, 5:51 PM IST
  • बिहार के शिक्षा मंत्री ने साफ कर दिया है कि विश्‍वविद्यालय के पीजी सिलेबस में जेपी, लोहिया के विचारों की पढ़ाई जारी रहेगी. उनके विचारों को सिलेबस से नहीं हटाया जाएगा. गौरतलब है कि विश्‍वविद्यालय के पीजी सिलेबस में बदलाव किया गया था. इस बदलाव के बाद विश्‍वविद्यालय के पीजी सिलेबस से जेपी, लोहिया के विचारों को हटा दिया गया था.
शिक्षा मंत्री ने कहा कि JP विवि के PG सिलेबस में जेपी, लोहिया के विचारों की पढ़ाई जारी रहेगी.

पटना. छपरा के जयप्रकाश विश्‍वविद्यालय के पीजी सिलेबस में जेपी, लोहिया के विचारों की पढ़ाई जारी रहेगी. यह जानकारी बिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने दी. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर इस तरह के मामले राज्य के किसी दूसरे विश्‍वविद्यालय में भी है तो बिहार सरकार मामले में संज्ञान लेगी. दरअसल, जयप्रकाश विश्‍वविद्यालय के पीजी के सिलेबस में बदलाव किया गया था. इस बाबत विश्‍वविद्यालय के कुलपति ने कहा था कि शिक्षा विभाग के सामने हमने पक्ष रख दिया है. पूरे मामले पर विभाग को फैसला लेना है. उन्होंने आगे बताया था कि पीजी राजनीतिक शास्‍त्र के सिलेबस से जेपी, लोहिया और तिलक के विचार को हटाकर आरएसएस से जुड़े लोगों के विचार शामिल किया गया है.

इस फैसले के बाद बिहार की सियासत गरमा गई थी. आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने ट्वीट के जरिए लिखा कि यह फैसला बर्दाश्‍त से बाहर है. बिहार सरकार को तुरंत इसपर संज्ञान लेना चाहिए. उन्होंने आगे लिखा कि उन्‍होंने 30 साल पहले छपरा में जेपी यूनिवर्सिटी की स्‍थापना की थी. लेकिन अब सरकार उसी विवि से समाजवादी जेपी के विचारों को हटा रही है. संघी मानसिकता के पदाधिकारियों का यह फैसला बर्दाश्‍त नहीं करेंगे. दरअसल, इस फैसले के बाद छात्र संघ ने भी कड़ी आपत्ति जताई थी. इस बाबत छात्र संघ का कहना था कि नए सिलेबस से परेशानी नहीं लेकिन जिनके नाम पर विश्‍वविद्यालय है, उनके विचारों को तो जरूर शामिल करना चाहिए.

जयप्रकाश यूनिवर्सिटी में पॉलिटिकल साइंस पीजी कोर्स से जेपी बाहर, सिलेबस से लोहिया भी आउट

लेकिन अब बिहार के शिक्षा मंत्री ने साफ कर दिया है कि विश्‍वविद्यालय के पीजी सिलेबस में जेपी, लोहिया के विचारों की पढ़ाई जारी रहेगी. उनके विचारों को सिलेबस से नहीं हटाया जाएगा. गौरतलब है कि विश्‍वविद्यालय के पीजी सिलेबस में बदलाव किया गया था. इस बदलाव के बाद विश्‍वविद्यालय के पीजी सिलेबस से जेपी, लोहिया के विचारों को हटा दिया गया था. जिसके बाद बिहार की सियासत तूल पकड़ने लगी थी. लेकिन अब शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने साफ कर दिया है कि विश्‍वविद्यालय के पीजी सिलेबस में जेपी, लोहिया के विचारों की पढ़ाई जारी रहेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें