जाप प्रमुख पप्पू यादव को किडनैपिंग के पुराने मामले में अरेस्ट करेगी बिहार पुलिस

Smart News Team, Last updated: 11/05/2021 05:20 PM IST
  • पटना में कोविड उल्लघंन को लेकर अरेस्ट किए गए पप्पू यादव को अब बिहार पुलिस किडनैपिंग के एक पुराने मामले में गिरफ्तार करने की तैयारी कर रही है. कहा जा रहा है कि पटना थाने में दर्ज एफआईआर में बेल के बाद पप्पू यादव को मधेपुरा पुलिस अरेस्ट करेगी.
बिहार विधानसभा चुनावों के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस करते जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव

पटना. जन अधिकार पार्टी के प्रमुख और पूर्व सांसद पप्पू यादव को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है. मंगलवार सुबह पटना में कोविड उल्लघंन की वजह से अरेस्ट हुए पप्पू यादव को बिहार पुलिस अब 1989 के पुराने किडनैपिंग केस में गिरफ्तार करने की तैयारी कर रही है. खबर है कि मधेपुरा से डीएसपी के नेतृत्व में एक टीम पप्पू यादव को ले जाने पटना पहुंची गै कागजी कार्यवाही चल रही है.

गौरतलब है कि अपहरण का यह केस मधेपुरा का है. बताया जा रहा है कि मधेपुरा में पप्पू यादव के नाम का वारंट भी निकला था और वहां की स्थानीय पुलिस ने पटना पुलिस से गिरफ्तारी में मदद की मांग की थी. बताया जा रहा है कि पप्पू यादव के खिलाफ पटना के पीरबहोर थाना में दर्ज एफआईआर के मामले में जमानत मिलने के बाद उन्हें अपहरण के मामले में जेल जाना पड़ सकता है.

पप्पू यादव के गिरफ्तारी पर मचा हंगामा, ट्विटर पर नंबर 1 ट्रेंडिंग बना #ReleasePappuYadav

मालूम हो कि मंगलवार को जाप प्रमुख को पटना पुलिस ने पीएमसीएच अस्पताल के कोविड वार्ड में घुसने और लॉकडाउन के उल्लघंन में गिरफ्तार किया था जिसके बाद बिहार की राजनीति में हल चल मच गई थी. ट्विटर पर भी पप्पू यादव की रिहाई का हैशटैग नंबर 1 ट्रेंड कर रहा था. यहां तक की बिहार एनडीए के साथी हम प्रमुख जीतनराम मांझी और वीआईपी पार्टी प्रमुख मुकेश सहनी ने भी पप्पू की गिरफ्तारी का विरोध किया था.

अरेस्ट के बाद पप्पू यादव बोले-कोरोना काल में जिंदगियां बचाना अपराध तो मैं अपराधी

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें