पद्मश्री सम्मानित वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा का हार्ट अटैक से निधन

Smart News Team, Last updated: 04/05/2021 11:55 AM IST
  • डॉ. मानस बिहारी वर्मा का सोमवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया. डॉ. मानस वर्मा दर्जनों पुरस्कारों से नवाजे जा चुके हैं. उनके निधन की पुष्टि डॉ. वर्मा के भतीजे मुकुल बिहारी वर्मा ने की.
पद्मश्री सम्मानित वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा का हार्ट अटैक से निधन

पटना। देश में बनने वाले सुपरसोनिक लड़ाकू विमान 'तेजस' में अहम किरदार निभाने वाले पद्मश्री डॉ. मानस बिहारी वर्मा का सोमवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया. सोमवार देर रात दरभंगा के लहेरियासराय स्थित उनके आवास पर उन्‍होंने आखिरी सांस ली. डीआरडीओ, बेंगलुरु में रक्षा वैज्ञानिक रह चुके डॉ. वर्मा पूर्व राष्ट्रपति कलाम के सहयोगी रह चुके हैं.

जानकारी के मुताबिक डॉ. मानस का सोमवार की रात तकरीबन 11.45 बजे लहेरियासराय के केएम टैंक स्थित आवास पर हार्ट अटैक होने से निधन हो गया. उनके निधन की पुष्टि डॉ. वर्मा के भतीजे मुकुल बिहारी वर्मा ने की. डॉ. वर्मा घनश्यामपुर प्रखंड के बाऊर गांव के रहने वाले थे. अभी हाल में वो केएम टैंक मोहल्ले में एक किराए के मकान में रह रहे थे. डॉ. मानस अविवाहित थे. उनके निधन की खबर मिलते ही बड़ी संख्या में लोग केएम टैंक स्थित उनके आवास पर पहुंचने लगे हैं. उनका अंतिम संस्कार बाऊर में ही किया जाएगा.

पटना के पाटलिपुत्रा इंडोर स्टेडियम में बना 110 बेड का कोविड अस्पताल शुरू, 9 ICU

डॉ. मानस वर्मा दर्जनों पुरस्कारों से नवाजे जा चुके हैं. उन्‍हें डीआरडीओ के 'साइंटिस्ट ऑफ द इयर' और 'टेक्नोलॉजी लीडरशिप अवॉर्ड' से क्रमशः पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने सम्‍मानित किया था. 2018 में उन्‍हें पद्मश्री सम्‍मान दिया गया. रिटायरमेंट के बाद साल 2005 से डॉ. वर्मा अपने गांव बाऊर में रह रहे थे. डॉ. वर्मा अलग-अलग एनजीओ के जरिए बच्चों और शिक्षकों के बीच विज्ञान का प्रसार करने की कोशिश कर रहे थे.

पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की मौत पर तेजस्वी ने जताया दुख, सरकार पर लगाया ये आरोप...

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें