डीजे पर प्रतिबंध के बाद पूजा पंडाल में मिले सिस्टम जब्त, विरोध में पूजा समितियों ने बंद की पंडाल के बाहर की लाइट

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 13th Oct 2021, 6:51 AM IST
  • दानापुर में प्रशासन ने कई पूजा पंडाल के डीजे जब्त कर लिए. प्रशासन की कार्रवाई के खिलाफ पूजा समितियों ने विरोध प्रदर्शन किया और पूजा पंडाल को छोड़ बाहर लगी लाइटों को न जलाकर अपना विरोध दिखाया. वहीं, इस मामले में प्रशासन का कहना है कि डीजे पर प्रतिबंध के बाद जहां साउंड बॉक्स मिले उन्हें जब्त किया गया.
डीजे पर प्रतिबंध के बाद पूजा पंडाल में मिले सिस्टम जब्त

पटना. नवरात्रि में सप्तमी के मौके पर सभी दुर्गा पंडाल में मां के पट खुल गए हैं. जिसमें सुबह से ही लोगों की भारी भीड़ मौजूद है. वहीं, इस बीच प्रशासन की प्रतिबंध के बाद भी कई पंडालों में डीजे सिस्टम लगाया गया. जिसको लेकर प्रशासन ने सुबह से ही कार्यवाई शुरू करते हुए दानापुर इलाके में करीब 16 डीजे सिस्टम जब्त कर लिए. जिसके विरोध में दुर्गापूजा समितियों ने पंडाल को छोड़ आसपास लगी सभी लाइटों को बंद रखा. पूजा समितियों ने कहा कि प्रशासन कोरोना गाइडलाइन के नाम पर मनमानी कर रहा है और पूजा में बाधा डालने का प्रयास किया जा रहा है.

पूजा समितियों से बॉन्ड भरवाने के बाद दे दिए जा रहे डीजे

इस मामले में एएसपी सैयद इमरान मसूद ने बताया कि पूजा पंडालों में प्रतिबंध के बाद भी डीजे सिस्टम मिले थे, उन्हें प्रशासन ने जब्त किया. हालांकि अब पूजा समितियों से बॉन्ड भरवाने के बाद उन्हें मुक्त किया जा रहा है. वहीं, उन्होंने कहा कि पूजा समितियों द्वारा लाइट बंद करना गलत है.

IPL से चमकी बिहार के प्लंबर की किस्मत, ड्रीम इलेवन में टीम बना जीती करोड़पति की लॉटरी

डीजे बजाने वालों पर होगी एफआईआर

पटना डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि प्रशासन ने डीजे पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है, इसके बाद भी शहर में कई पंडालों में डीजे बजाया जा रहा है. जिसके चलते प्रशासन ने कई पंडालों से डीजे जब्त किया है. यदि कोई भी डीजे बजाता मिला उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी.

बिहार उपचुनाव: कांग्रेस स्टार प्रचारकों की लिस्ट पर JDU का तंज- गांधी परिवार...

विरोध करते हुए बंद की लाइट

पूजा समितियों ने कहा कि प्रशासन की कार्रवाई का विरोध करते हुए हमने लाइट बंद की है. प्रसासन का रवैया गलत और निराधार है. हम इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे. हम मूर्ति सहित सजावट की किसी लाइट को नहीं जलाएंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें