पटना एयरपोर्ट पर बनेंगे चार टावर, कार्गो टर्मिनल बनने से बढ़ेगा दूसरे शहरों से व्यापार

Haimendra Singh, Last updated: Mon, 21st Feb 2022, 11:23 AM IST
  • पटना हवाई अड्डे पर चार नए टावरों का निर्माण किया जा है. इन चारो टावरों के कार्गो, एटीसी, फायर और नई पार्किंग के लिए प्रयोग किया जाएगा. यह पहला मौका है जब बिहार के किसी एयरपोर्ट पर कार्गो टर्मिनल का निर्माण किया जा रहा है.
पटना एयरपोर्ट (फाइल फोटो)

पटना. बिहार की राजधानी पटना के एयरपोर्ट(Patna Airport) पर अगले चार महीने में चार टावरों का निर्माण होने जा रहा है. इन चारों टावरों को एटीसी, कारगो, फायर और मल्टोस्टोरी पार्किंग के लिए प्रयोग में लाया जाएगा. इन चार टावरों के निर्माण से यातायात व्यापार, यात्री सुविधा और संरक्षा के नजरिये से महत्वपूर्ण माना जा रहा है. जानकारी के अनुसार, मल्टीस्टोरिज पार्किंग तो लगभग बनकर तैयार है लेकिन इसे टर्मिनल भवन के बन जाने के बाद ही शुरू कर दिया जाएगा. बिहार के किसी हवाई अड्डे पर पहली कारगो टर्मिनल बनाया जा रहा है.

एयरपोर्ट से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि चारो टावरों बनाने की प्रकिया शुरू होने वाली है. यह पहला मौका होगा, जब बिहार की किसी एयरपोर्ट पर कारगो टर्मिनल का निर्माण किया जाएगा. इसके निर्माण से हवाई मार्ग से दूसरे शहरों में माल भेजने में आसानी होगी. इससे स्थानीय व्यापारी को बिजनेस में लाभ मिलेगा. वहीं चार टावरों में से एक पर नई पार्किंग बनाई जाएगी, जिसमें 750 वाहन को पार्किंग करने की क्षमता होगी.

बिहार: सरकारी अस्पतालों में तैनात होंगे लैब टेक्नीशियन, जल्द मिलेंगी ये सुविधाएं

एटीसी और फायर के लिए नए टावर

पटना एयरपोर्ट पर बन रहे चार टावरों में से दो का प्रयोग एटीसी और फायर के लिए किया जाएगा पहले एटीसी मुख्य टर्मिनल से ऑपरेट करता था अब इसके लिए नया टावर बन जाएगा जिसके बाद वहां से विमानों के आवाजाही को कंट्रोल किया जा सकेगा. इसके अलावा फायर टर्मिनल को एटीसी, कार्गो और फायर को आसपास बनाया जाएगा. आधिकारियों ने बताया है कि विमानों की आवाजाही बढ़ने के बाद फायर की ज्यादा जरूरत महसूस होती है. इसी को ध्यान रखते हुए यह फैसला लिया गया.

पटना. बिहार की राजधानी पटना के एयरपोर्ट(Patna Airport) पर अगले चार महीने में चार टावरों का निर्माण होने जा रहा है. इन चारों टावरों को एटीसी, कारगो, फायर और मल्टोस्टोरी पार्किंग के लिए प्रयोग में लाया जाएगा. इन चार टावरों के निर्माण से यातायात व्यापार, यात्री सुविधा और संरक्षा के नजरिये से महत्वपूर्ण माना जा रहा है. जानकारी के अनुसार, मल्टीस्टोरिज पार्किंग तो लगभग बनकर तैयार है लेकिन इसे टर्मिनल भवन के बन जाने के बाद ही शुरू कर दिया जाएगा. बिहार के किसी हवाई अड्डे पर पहली कारगो टर्मिनल बनाया जा रहा है.

एयरपोर्ट से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि चारो टावरों बनाने की प्रकिया शुरू होने वाली है. यह पहला मौका होगा, जब बिहार की किसी एयरपोर्ट पर कारगो टर्मिनल का निर्माण किया जाएगा. इसके निर्माण से हवाई मार्ग से दूसरे शहरों में माल भेजने में आसानी होगी. इससे स्थानीय व्यापारी को बिजनेस में लाभ मिलेगा. वहीं चार टावरों में से एक पर नई पार्किंग बनाई जाएगी, जिसमें 750 वाहन को पार्किंग करने की क्षमता होगी.

बिहार: सरकारी अस्पतालों में तैनात होंगे लैब टेक्नीशियन, जल्द मिलेंगी ये सुविधाएं

एटीसी और फायर के लिए नए टावर

पटना एयरपोर्ट पर बन रहे चार टावरों में से दो का प्रयोग एटीसी और फायर के लिए किया जाएगा पहले एटीसी मुख्य टर्मिनल से ऑपरेट करता था अब इसके लिए नया टावर बन जाएगा जिसके बाद वहां से विमानों के आवाजाही को कंट्रोल किया जा सकेगा. इसके अलावा फायर टर्मिनल को एटीसी, कार्गो और फायर को आसपास बनाया जाएगा. आधिकारियों ने बताया है कि विमानों की आवाजाही बढ़ने के बाद फायर की ज्यादा जरूरत महसूस होती है. इसी को ध्यान रखते हुए यह फैसला लिया गया.|#+|

 

 

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें