पटना

पटना AIIMS में सिर्फ रेफर किये गये कोरोना मरीजों का इलाज, आम लोगों की इंट्री बंद

Smart News Team, Last updated: 15/07/2020 12:49 PM IST
  • एम्स के गेट पर जांच करने के बाद कोरोना मरीजों को अस्पताल में एडमिट किया जायेगा
Patna AIIMS File Photo

पटना. पटना के एम्स में अब सरकारी अस्पतालों की तरफ से रेफर किये गये कोरोना मरीजों का इलाज किया जायेगा। एम्स में अब आम लोगों की इंट्री पर रोक लगा दी गई है। एम्स के गेट पर जांच करने के बाद कोरोना मरीजों को अस्पताल में एडमिट किया जायेगा। अब एम्स में फ्लू जांच सेंटर भी बंद कर दिया गया है।

मंगलवार को इस संबंध में बैठक आयोजित की गई थी, जिसमें एम्स के निदेशक, अस्पताल अधीक्षक सहित सिटी मजिस्ट्रेट और पटना एडीएम भी शामिल हुए थे। इस बैठक ही इसका फैसला लिया गया। 

पटना में कहर: बिहार BJP चीफ संजय जायसवाल कोरोना संक्रमित, पत्नी-मां भी पॉजिटिव

अस्पताल अधीक्षक के अनुसार अब अस्पताल में सिर्फ कोरोना के उन मरीजों का दाखिला होगा, जिन्हें सरकारी अस्पताल से रेफर किया जायेगा। गेट पर ही इसकी जांच की जायेगी और मरीज के अलावा किसी और व्यक्ति की अस्पताल में इंट्री नहीं होगी। एम्स परिसर में फ्लू जांच को लेकर लोगों की काफी भीड़ जमा हो जाती थी, जिस वजह से फ्लू जांच सेंटर भी बंद करने का फैसला लिया गया है। 

सदर एसडीओ तनैय सुल्तानिया के अनुसार सुरक्षा के लिहाज से यहां तीन शिफ्टों में पुलिसकर्मियों की तैनाती की जा रही है और कंट्रोल रूम भी बनाया जा रहा है। अस्पताल में इंट्री के समय परिजनों की तरफ से अक्सर विवाद की स्थिति उत्पन्न हो जाती है, जिससे अस्पताल के कर्मचारियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

अन्य खबरें