कोरोना लॉकडाउन में लापरवाही पड़ रही पटना को भारी, कोविड 19 संक्रमण बेलगाम

Smart News Team, Last updated: 28/07/2020 05:06 PM IST
  • पटना में दूसरे लॉकडाउन के बाद भी कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं और एक्सपर्ट का कहना है कि संक्रमण इसलिए तेजी से फैल रहा है क्योंकि लोग लापरवाही बरत रहे हैं.
पटना में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 7396 हो गई है और मंगलवार को भी दोपहर तक 411 नए कोविड केस मिले हैं.

पटना. पटना में कोरोना केस के बढ़ते मामलों के बाद दोबारा लगाए लॉकडाउन में भी लोगों की लापरवाही राजधानी पर भारी पड़ रही है. पटना में मंगलवार की दोपहर तक करीब 7400 कोरोना केस मिल चुके हैं जिसमें अकेले मंगलवार को 411 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं. एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना वायरस तो जो कहर मचा रहा है वो तो है लेकिन पटना के बाजार में लोगों की भारी भीड़ और उनकी लापरवाही वायरस को तेजी से फैलने में मदद कर रही है.

पटना में कई नए हॉटस्पॉट जोन बनाए गए हैं जिसमें राजीव नगर, कंकड़बाग, राजेंद्र नगर, दीघा, गर्दनीबाग, कदमकुआं, गोला रोड और पटना सिटी के कई इलाके शामिल हैं. पटना सिटी और गोला रोड को तो रेड जोन में रखा गया है. टेस्टिंग में इन इलाकों में बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित प्रतिदिन मिल रहे हैं.

पटना: कोरोना से ठीक हुए प्लाज्मा डोनर का एक साल मुफ्त इलाज करेंगे डॉक्टर

विशेषज्ञों के अनुसार लापरवाही और जागरूकता का अभाव कोरोना संक्रमण के बेलगाम होने का बड़ा कारण है. कोरोना से बचाव के लिए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस का पटना के कंकड़बाग, राजेंद्र नगर और हनुमान नगर इलाकों में उल्लंघन के काफी मामले सामने आए. पटना के बाजार में लोग बिना मास्क और सामाजिक दूरी का पालन किए निकल रहे थे. 

पटना के गोविंद मित्रा रोड बाजार में लोगों की भारी भीड़.

पटना में इसलिए नहीं थम रहा कोरोना, लॉकडाउन में भी बाजारों में भारी भीड़, फोटो

पटना एम्स में कोरोना नोडल पदाधिकारी डॉ. संजीव कुमार ने कहा कि संक्रमण का तेजी से फैलने का बड़ा कारण लोगों द्वारा बरती गई लापरवाही है. बिना जागरूकता के संक्रमण रोक नहीं सकते हैं. सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस का लोगों को पालन करना चाहिए.

अन्य खबरें