पटना

पटना एम्स में कोरोना पॉजिटिव चार लोगों की मौत, 15 मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव

Smart News Team, Last updated: 15/07/2020 10:35 PM IST
  • पटना एम्स में बुधवार को चार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई जबकि 15 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आ गई। अस्पताल में एक और मौत हुई है लेकिन कोरोना जांच की रिपोर्ट का इंतजार है।
बिहार में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 16 जुलाई से 31 जुलाई तक लॉकडाउन का ऐलान किया गया है।

पटना. राजधानी पटना के एम्स में कोरोना पॉजिटिव चार मरीजों के साथ-साथ एक संदिग्ध केस की बुधवार को मौत हो गई है। संदिग्ध की कोरोना जांच कराई गई है और रिपोर्ट का इंतजार है। पटना एम्स से बुधवार को 15 कोरोना मरीज ठीक होकर निकले जिसमें 13 पटना के ही हैं। पटना में बुधवार को पटना में 194 नए कोरोना केस मिले हैं जिसके साथ जिला में अब तक कोरोना केस की संख्या बढ़कर 2475 हो गई है जिसमें 1282 ठीक हो चुके हैं और कुल 23 की मौत हुई है।

पटना एम्स के नोडल पदाधिकारी ने बताया कि चार कोरोना संक्रमित और एक सस्पेक्टेड की मौत हुई है। मरने वालों में कोरोना पॉजिटिव अनीसाबाद की 56 वर्षीय इमरान जायरीन, गर्दनीबाग के 50 वर्षीय रामेश कुमार हैं। राजपुर रोहतास के 63 वर्षीय मनोरंजन प्रसाद श्रीवास्तव, ब्रह्मपुरा मुजफ्फरपुर के 70 वर्षीय मिर्जा शाहिद अहमद बागी की भी मौत हुई है। आईसोलेशन वार्ड में भर्ती गोला रोड दानापुर की 54 वर्षीया उषा देवी की भी मौत हुई है जिनका सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजा गया है।

कोरोना सुपरफास्ट: पटना में आज 194 मरीज मिले, बिहार में पॉजिटिव 20 हजार पार

पटना एम्स में इलाज करा रहे 15 कोरोना पॉजिटिव लोगों ने बुधवार को वायरस को मात दे दिया है। इसमें 13 लोग पटना के हैं। कोरोना से ठीक होने वालों में गर्दनीबाग, दीघा, नौबतपुर, कंकड़बाग, कदमकुआं, बोरिंग रोड, कुर्जी, बिहटा, शास्त्री नगर, बेउर और गर्दनीबाग के 13 लोग हैं। इसमें एक 14 वर्ष की बच्ची और 13 वर्ष का बच्चा भी शामिल है। पटना एम्स में ठीक हुए बाकी दो मरीज दरभंगा और नालंदा के रहने वाले हैं। 

पटना में हैवानियत: कोरोना जांच के लिए PMCH आई लड़की से गार्ड ने किया रेप

कोरोना को मात देने वालों से सबसे ज्यादा उम्र 74 वर्षीय सुबोध मिश्रा की है जो कंकड़बाग के रहने वाले हैं। पटना एम्स में बुधवार को 23 सस्पेक्टड और 33 पॉजिटिव को भर्ती किया गया है। पटना एम्स के नोडल पदाधिकारी डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि वर्तमान में पटना एम्स में 282 लोग एडमिट हैं।

सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष की पत्नी की कोरोना से मौत

बिहार राज्य सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष इरसदुल्लाह की पत्नी इमरान जायरीन (56) की बुधवार को पटना एम्स में मौत हो गई। पटना एम्स में जिन चार लोगों की मौत हुई उनमें इमरान भी शामिल थीं। पटना एम्स के अलावा एनएमसीएच में भी तीन लोगों की मौत हुई है। नोडल पदाधिकारी डॉ. अजय सिन्हा ने बताया कि बुधवार को मरने वालों में पटना सिटी के सरयुग प्रसाद (66), पूर्वी चंपारण के अवधेश सिंह (62) और भभुआ के शबान अली (50) शामिल हैं।

अन्य खबरें