पटना में नहीं थम रहा कोरोना, शनिवार को नए 265 केस, जानें बिहार का हाल

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 05:49 PM IST
  • बिहार में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के मरीज. शनिवार को कोरोना के 1140 नए मामले सामने आए. राजधानी पटना से सर्वाधिक 265 नए मरीज मिले. जिसके बाद प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1,94,966 हो गया है.
बीते चैबीस घंटे में बिहार में कोरोना के 1140 नए केस सामने आए हैं.

पटना.देश के साथ-साथ प्रदेश में भी कोरोना का कहर जारी है. प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. शनिवार को प्रदेश में 1140 नए कोरोना मरीजों की पहचान हुई. जिसके बाद प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,94,966 हो गई है. कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले राजधानी पटना से सामने आए हैं जबकि राज्य के अन्य कई जिलों से भी कोरोना संक्रमण के नए मामलों की पुष्टि हुई है.

शनिवार को राजधानी पटना से से कोरोना के सर्वाधिक 256 नए मामले सामने आए जबकि अररिया से 58 और नालंदा से 40 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई. वहीं, औरंगाबाद, बांका, बेगूसराय, भागलपुर और बक्सर से क्रमशः 22,13, 20, 38, 7 नए मामलों की पुष्टि हुई. भोजपुर जिले से 9, दगभंगा से 10 और गया से 36 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई.

पटना: 22 तारीख को होंगे विधान परिषद चुनाव, जाने कहां-कहां बनेगें मतदान केंद्र

इसके अलावा प्रदेश के गोपालगंज से 22 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई है. जबकि जहानाबाद, कैमूर, कटिहार, खगड़िया, किशनगंज, लखीसराय और मधेपुरा से क्रमशः 27, 1, 23, 4, 34, 21 और 38 कोरोना के नए मामलों की पुष्टि हुई है. जमुई से 17, मधुबनी से 12, मुंगेर से 9, मुजफ्फरपुर से 50 और नवादा से 20 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है.

सहरसा से 69 और सारण से 35 नए संक्रमित

सहरसा से 69 और सारण से 35 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है जबकि पूर्णिया से 58, रोहतास से 30, समस्तीपुर से 11, शेखपुरा से 19 नए मामले सामने आए हैं. सीवान, सुपौल, वैशाली, पश्चिमी चंपारण , सीतामढ़ी और शिवहर से क्रमशः 17, 25, 23, 19, 2 और 1 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं.

विधानसभा चुनाव: यूपी की लड़ाई ने एक ना होने दिए बिहार में दो गठबंधन

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और जानकारों का मानना है कि प्रदेश में कोरोना के प्रति लोगों में अब भी जागरूकता की कमी है. जिस वजह से लोग जरूरी सांवधानियां नहीं बरत रहें हैं. जिस वजह से कोरोना संक्रमितों की तादाद लगातार बढ़ती जा रही है. जानकारों का मानना है कि लोग अब भी मॉस्क और सोशल डिस्टेंसिंग जैसी जरूरी चीजों का पालन नहीं कर रहे हैं. जिस वजह से कोरोना प्रदेश में लगातार पैर पसार रहा है. अगर लोग अब भी जागरूक नहीं होंगे और जरूरी सावधानियों का पालन नहीं करेंगे तो आने वाले दिनों में कोरोना से स्थिति और भी भयावह होगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें