पटना में 122 नए कोरोना केस मिलने से आंकड़ा हुआ 3972, VVIP इलाके-दफ्तर निशाने पर

Smart News Team, Last updated: 22/07/2020 11:41 AM IST
  • पटना जिले में मिले कोरोना संक्रमितों में वीवीआईपी व वीआईपी इलाके तथा सरकारी दफ्तरों से जुड़े ज्यादा लोग.
पटना में खतरनाक होते जा रहे कोरोना वायरस के आंकड़ें

बिहार की राजधानी पटना में कोरोना वायरस ने हाहाकार मचा दिया है। कोरोना वायरस का संक्रमण इतनी तेजी से फैल रहा है कि आम लोगों के साथ-साथ वीवीआईपी लोग भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। मंगलवार को लोकायुक्त कार्यालय के 10 कर्मी, पीएमसीएच के 14 कर्मी, मसौढ़ी के 19 समेत जिले में 122 नए कोरोना संक्रमित मिले। इस तरह जिले में संक्रमितों की 3972 हो गई है। इनमें एक्टिव संक्रमितों की संख्या 1718 है, जबकि 2219 लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। वहीं, कोरोना से अब तक 35 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

शव का VIDEO वायरल होने व सेंट्रल टीम की फीडबैक पर एक्शन, NMCH के अधीक्षक हटाए गए

मंगलवार को मिले संक्रमितों में वीवीआईपी, वीआईपी इलाके और कार्यालयों के लोग बड़ी संख्या में शामिल हैं। सिविल सर्जन डॉ. आरके चौधरी ने बताया कि राजभवन कॉलोनी के दो, लोकायुक्त कार्यालय के 10, देश रत्न मार्ग के तीन, सिविल कोर्ट के तीन, पीएमसीएच से जुड़े 14, भाजपा कार्यालय के एक, बोरिंग रोड चौराहा के दो लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं।

इसके अलावा मसौढ़ी के 19 तथा कुम्हरार, गर्दनीबाग, कंकड़बाग, महेंद्रू में भी दो-दो संक्रमित मिले हैं। वहीं, पटना एम्स में भर्ती 43 नए संक्रमितों में से 23 पटना के हैं। इनमें गांधी मैदान, एग्जीबिशन रोड, गर्दनीबाग, कुम्हरार, कंकड़बाग, रूपसपुर, खगौल, बांकीपुर, नेहरूनगर, पाटलिपुत्रा कॉलोनी, फुलवारीशरीफ, वाल्मी आदि इलाकों के लोग शामिल हैं। एम्स में कोरोना के नोडल पदाधिकारी डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि मंगलवार को स्वस्थ होने के बाद एम्स से 18 लोगों को डिस्चार्ज किया गया है। अभी यहां कुल 347 संक्रमित भर्ती हैं।

पीएमसीएच में एक और लैब टेक्नीशियन संक्रमित

पीएमसीएच में मंगलवार को एक और लैब टेक्नीशियन संक्रमित हो गया। इसके अलावा अस्पताल के 13 अन्य कर्मी व नर्स संक्रमित मिले। पीएमसीएच में कुल 414 सैंपलों की जांच हुई। इनमें 163 एंटीजन किट से हुई। इनमें 43 पॉजिटिव निकले। आरटीपीसीआर मशीन से 251 सैंपलों की जांच हुई। इनमें 29 पॉजिटिव मिले। पॉजिटिव पाए गए लोगों में मलाही पकड़ी का निजी क्लिनिक चलाने वाला एक डॉक्टर समेत 65 पटना के ही संक्रमित हैं।

कोरोना पर पटना आई सेंट्रल टीम ने जो फीडबैक दिया, वह सभी बिहारवासियों को डरा देगा

ग्रामीण कार्य विभाग कोरोना की चपेट में

ग्रामीण कार्य विभाग में कोरोना का कहर जारी है। विभाग के मंत्री शैलेश कुमार अभी तक होम क्वारंटाइन में हैं। वहीं, मंत्री आवास के पांच कर्मियों की भी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। कोरोना संक्रमण के कारण विभागीय मंत्री कोषांग के सहायक अजित कुमार सिन्हा ने मंगलवार को पटना एम्स में दम तोड़ दिया। वहीं, विभाग के पांच कर्मचारी और अधिकारी की भी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

अन्य खबरें