बन रहे थे पकवान, रास्ते में थे मेहमान, तिलक से कुछ देर पहले लड़के को हुआ कोरोना

Smart News Team, Last updated: Fri, 26th Jun 2020, 7:50 AM IST
  • मकसिदपुर गांव में गुरुवार को एक युवक की तिलक समारोह की तैयारी चल रही थी और शाम में लड़की पक्ष के लोग आने वाले थे। हालांकि मेहमानों और गांव के सगे-सम्बन्धियों के लिए पकवान बन रहे थे। इसी बीच दोपहर में स्थानीय प्रशासन व एम्बुलेंस गांव पहुंची और युवक के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी। इस कारण तिलक समारोह रोक देना पड़ा।
प्रतीकात्मक तस्वीर

पटना में कोरोना वायरस का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसके बारे में जिसे भी पता चल रहा है वह सन्न हो जा रहा है। दरअसल, पटना के दनियावां में एक शख्स को तिलक समारोह से ठीक कुछ घंटे पहले कोरोना पॉजिटिव होने की बात पता चली। दरअसल, प्रखण्ड के मकसिदपुर गांव में गुरुवार को एक युवक की तिलक समारोह की तैयारी चल रही थी और शाम में लड़की पक्ष के लोग आने वाले थे। हालांकि मेहमानों और गांव के सगे-सम्बन्धियों के लिए पकवान बन रहे थे। इसी बीच दोपहर में स्थानीय प्रशासन व एम्बुलेंस गांव पहुंची और युवक के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी। इस कारण तिलक समारोह रोक देना पड़ा।

पकवान बन रहे थे तभी आई बुरी खबर

इसी युवक का तिलक चढ़ाने गुरुवार शाम को लड़की वाले आने वाले थे। कोरोना होने की सूचना मिलते ही लड़का पक्ष उदास हो गया। परिजन यह बात मानने को तैयार नहीं थे कि उसके बेटे की रिपोर्ट पॉजिटिव है। कारण कि वह युवक पिछले डेढ़ माह पहले हरियाणा से अपने घर आया था। चार दिन पूर्व अपनी जांच के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था। उसमें कोई लक्षण भी नहीं था। इसी कारण परिजन को यह बात हजम नहीं हो रही थी कि उनके लड़के को कोरोना है।

घंटों समझाने पर माने परिवार वाले

अंत में अधिकारियों को समझाने के बाद युवक को पटना भेजा गया और गांव का खुशी का माहौल गम में बदल गया। दनियावां बीडीओ संजय कुमार सिन्हा और सीओ अजय राज व मुखिया पति प्रभात सिंह ने घंटों समझाया। तब युवक के परिजन अपनी बाइक से उसे पटना ले गए।

परिवार की भी होगी जांच

युवक को बाइक चलाकर उसके मामा अस्पताल ले गए। उनकी जांच के लिए भी सैंपल लिया गया। इसके अलावा युवक के परिवार के अन्य सदस्यों की भी जांच की जाएगी।

दनियावां में मिले आठ कोरोना पॉजीटिव मरीज

प्रखंड के मछरियावां मध्य विद्यलय में  पिछले चार दिन पूर्व 80 लोगों के सैम्पल दानियावां पीएचसी ने लिये थे। इनमें आठ लोगों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। इससे पूरे प्रखंड में हड़कंप मच गया। इन्हें अस्पताल भर्ती कराने में स्थानीय प्रशासन को मशक्कत करनी पड़ी।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें