पटना

पटना में हैवानियत: कोरोना जांच के लिए PMCH आई लड़की से गार्ड ने किया रेप

Smart News Team, Last updated: 15/07/2020 10:50 PM IST
  • पीएमसीएच के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किशोरी के साथ वहीं के गार्ड ने रेप किया। किशोरी की उम्र 15 साल है। आइसोलेशन वार्ड में महिला पुलिस की तैनाती नहीं थी। जिस बच्ची का बलात्कार हुआ है इसकी कोरोना जांच रिपोर्ट आठ दिन से नहीं आई है नहीं तो बच्ची बालिका गृह भेज दी गई होती।
पटना में हैवानियत की हद पार, पीएमसीएच में एक बच्ची से दुष्कर्म। (Rape Generic Photo)

राजधानी पटना में कोरोना वायरस के कहर के बीच इंसानियत को झकझोर देने वाली घटना सामने आ रही है। राज्य के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच में एक बच्ची से रेप किया गया है, हैरानी की बात यह है कि यह वारदात आइसोलेशन सेंटर में 15 साल की किशोरी के साथ हुई है। पीड़ित किशोरी की उम्र 15 साल है। घटना आठ जुलाई की है। इस बाबत महिला थाना में पॉक्सो और रेप की धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर आरोपित गार्ड महेश प्रसाद को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कोरोना सुपरफास्ट: पटना में आज 242 मरीज मिले, बिहार में पॉजिटिव 20 हजार पार

दरअसल, पीएमसीएच के आइसोलेशन सेंटर में अस्पताल के ही गार्ड ने एक बच्ची से दुष्कर्म और एक बच्ची के साथ गलत हरकत किया है। इस मामले में महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज हुई है और इसके आधार पर पीएमसीएच के गार्ड महेश प्रसाद को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी गार्ड ने आठ जुलाई की रात पीड़ित बच्ची के साथ रेप किया था। जब बच्ची ने चाइल्ड वेलफेयर अफसर को जानकारी दी, जब जाकर सच्चाई सामने आई।

दरअसल, दर्ज प्राथमिकी के मुताबिक, किशोरी चाइल्ड हेल्पलाइन को बाढ़ रेलवे स्टेशन पर भटकते हुए मिली थी। वहां से लाने के बाद कोरोना जांच के लिए पीएमसीएच के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था। आठ जुलाई की रात में ही गार्ड महेश प्रसाद किशोरी को बाथरूम की तरफ ले गया और वहीं पर बाथरूम में ले जाकर उसका रेप किया। नौ जुलाई को चाइल्ड हेल्पलाइन से एक और किशोरी आइसोलेशन सेंटर में आई। उसके पास फोन था। हिम्मत करके 14 जुलाई को किशोरी ने चाइल्ड हेल्पलाइन में कॉल करके बताया कि आप सुरक्षा के लिए भेजे थे, यहां मेरे साथ गार्ड अंकल ने रेप किया।

न घर के न घाट के: जिस प्रेमी के लिए अपना सुहाग खुद उजाड़ा, वही शादी से मुकर गया

इसके बाद महिला थाना ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी गार्ड को गिरफ्तार कर लिया। पीड़िता का 164 का बयान दर्ज करा दिया गया है। गुरुवार को पीड़िता का मेडिकल जांच कराया जाएगा। महिला थानाध्यक्ष आरती जायसवाल मामले की छानबीन में जुट गई हैं। 

क्या है पूरा मामला

जिस गार्ड पर सुरक्षा का दायित्व था, उसी ने रेप किया। किशोरी के अनुसार आठ जुलाई की रात जब आइसोलेशन वार्ड में अन्य लड़कियां सो रही थीं। उसे नींद नहीं आ रही थी। गार्ड ने बहाने से बुलाया। वह गई तो गार्ड ने जबरदस्ती बाथरूम में बंद कर उसके साथ रेप किया। रेप करने के बाद कहा कि किसी को बोली तो मार देंगे। डर से किशोरी कुछ नहीं बोल पा रही थी। लेकिन दूसरे दिन चाइल्ड हेल्पलाइन से ही जब दूसरी युवती को भेजा गया और देखा कि उसके पास फोन है तो हिम्मत करके सारी बातें चाइल्ड हेल्पलाइन नम्बर के कर्मचारियों को बता दी।

पटना वीमेंस कॉलेज: 1 घंटा ऑनलाइन क्लास, 74000 फीस, छात्राओं ने कहा- ये अन्याय है

अन्य खबरें