पटना

बैंक अधिकारी बन महिला से मांगा बैंक डिटेल, OTP नहीं मिला फिर भी उड़ा दिए 23 हजार

Smart News Team, Last updated: 17/07/2020 08:06 PM IST
  • इस बार पटना की एक महिला शिकार हुई है जिसके खाते से बैंक अधिकारी बनकर साइबर अपराधियों ने 23 हजार रुपये उड़ा लिए।
cybercrime

कोरोना काल में साइबर क्राइम की घटनाएं इतनी तेजी से बढ़ गई हैं कि हर दिन कोई न कोई इसका शिकार हो जा रहा है। इस बार पटना की एक महिला शिकार हुई है जिसके खाते से बैंक अधिकारी बनकर साइबर अपराधियों ने 23 हजार रुपये उड़ा लिए। दरअसल, साइबर अपराधी ने बैंक अधिकारी बनकर एक महिला से उसके खाते के डिटेल मांगे। उसके बाद महिला के मोबाइल पर आए ओटीपी को भी मांगा। हालांकि, महिला ने ओटीपी नहीं बताया, मगर बावजूद इसके साइबर अपराधी ने उसके खाते से दो बार में 23 हजार रुपये उड़ा दिए।

बिहार चुनाव अक्टूबर में या टलेगा, पार्टियों का मन टटोलने को चुनाव आयोग की मीटिंग

इस साइबर फ्रॉड के मामले में पीड़ित महिला ने गर्दनीबाग थाने में अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। पीड़ित महिला का नाम बैजंती देवी है और वह अनीसाबाद की रहने वाली हैं।

पीड़ित महिला का कहना है कि उनका खाता एसबीआई अनीसाबाद में है। 14 जुलाई को उनके मोबाइल पर एक अनजान नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने अपने को एसबीआई का अधिकारी बताया। इसके बाद उसने कहा कि आपका अकाउंट अपडेट करना है, जो पूछा जा रहा है, उसे बताइए। इस बीच उसने कहा कि अपना मोबाइल चेक कीजिए। उस पर जो ओटीपी नंबर आया है, जल्द बताइये।

जल्द मिलेगी खुशखबरी? पटना एम्स में 7 लोगों को दी गई कोरोना वैक्सीन की पहली डोज

इसके बाद महिला को शक हो गया। शक होने पर महिला ने उसे ओटीपी नंबर बताने से साफ इनकार कर दिया। इसके बाद फोन करने के कुछ ही देर बाद महिला के खाते से दो बार में 23 हजार रुपये उड़ा दिये गए। मोबाइल पर खाते से रकम कटने का मैसेज आने महिला को इस ठगी के बारे में पता चला। गर्दनीबाग थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच की जा रही है।

अन्य खबरें