पटना में साइबर फ्रॉड: मर्चेंट नेवी इंजीनियर के बैंक खाते से उड़ाए 20 लाख, जानें

Smart News Team, Last updated: Mon, 19th Jul 2021, 7:58 PM IST
  • बिहार की राजधानी पटना में एक बड़ी साइबर ठगी का मामला सामने आया है. समीर कुमार जो एक्सक्यूटिव शिप मैनेजमेंट प्राईवेट लिमिटेड, सिंगापुर मर्चेंट नेवी में इंजीनियर पद पर कार्यरत हैं. उनके अकाउंट से दो बार में बीस लाख की अवैध निकासी कर ली गई.
साइबर ठगी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना:बिहार की राजधानी पटना में एक बड़ी साइबर ठगी का मामला सामने आया है. समीर कुमार जो एक्सक्यूटिव शिप मैनेजमेंट प्राईवेट लिमिटेड, सिंगापुर मर्चेंट नेवी में इंजीनियर पद पर कार्यरत हैं. उनके अकाउंट से दो बार में बीस लाख की अवैध निकासी कर ली गई. साइबर ठग ने इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से यूनो ऐप के जरिए समीर के खाते से अपने कर्नाटक स्थित बैंक के अपने खाते में रकम ट्रांसफर कर ली. जिसके बाद समीर कुमार के शिकायत पर संबंधित बैंक ने उक्त खाते को फ्रीज कर दिया है.

समीर मुख्य रुप से पटना के एसकेपुरी थाना क्षेत्र के राजेंद्र पथ का रहने वाला है. जिसका खाता जिससे निकासी की गई है वो गांधी मैदान स्थित एसबीआई मुख्य शाखा में है. निकासी करने वाले शातिर ने यूनो ऐप के माध्यम से 11 और 12 जुलाई की रात दस-दस लाख रूपए दो बार में पैसा ट्रांसफर किया. चूंकि एक दिन में 10 लाख रूपए की ही निकासी की जा सकती थी. इसलिए शातिर ठग ने पहली निकासी रात के 12 बजे से पहले की तथा दूसरी निकासी रात 12 बजे के बाद की. इस तरह 10-10 लाख रूपए कर के दो बार में 20 लाख रूपए ठग ने समीर के खाते से अपने खाते में ट्रांसफर कर लिया.

समीर को जैसे ही रकम ट्रांसफर होने की जानकारी मिली वैसे ही उसने इसकी सूचना गांधी मैदान स्थित एसबीआई के मुख्य शाखा में की. बैंक के जांच में पता चला कि यह रकम कर्नाटक के किसी एक बैंक खाते में की गई है. जिसके बाद इसकी सूचना पीड़ित और बैंक द्वारा मेल पर कर्नाटक के उस बैंक को दी गई. जिसके बाद बैंक द्वारा उस खाते को तत्काल फ्रीज कर दिया गया.

इस घटना की सूचना गांधी मैदान थाने में भी दी गई है. थाना प्रभारी रणजीत वत्स ने बताया है कि मामले पर केस दर्ज कर ली गई है. उन्होंने बताया कि इसकी अभी जांच चल रही है कि जिस अकाउंट में पैसे ट्रांसफर की गई है वह अकाउंट किसका है. बताते चलें कि पिछ्ले कुछ महीनों से साइबर क्राइम के मामले लगातार बढ़ रहें हैं. जिस पर पुलिस एफआईआर दर्ज करने तक ही रह जाती है. मामले की छान बीन कर अभी तक कोई भी साइबर अपराधी पकड़ा नही गया है.

EPFO: PF खाते से ऑनलाइन निकाल सकते हैं पूरा पैसा, जानें सबसे आसान तरीका

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें