पटना

कोरोना काल में बेहतर काम का इनाम, पटना के डॉक्टर निखिल को US में मिला सम्मान

Smart News Team, Last updated: 18/06/2020 05:18 PM IST
  • कोरोना काल में पटना के डॉ. निखिल अग्रवाल को चिकित्सा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने की वजह से अमेरिका डेक्सटर एस लेवी, एमडी रेसिडेंट अवार्ड-2020 से सम्मानित किया गया।
डॉ. निखिल अग्रवाल (फाइल फोटो)

दुनिया का ऐसा कोई सेक्टर नहीं, जहां बिहारी प्रतिभाओं का बोलबाला न हो। चिकित्सा के क्षेत्र में भी बिहार के लोगों ने दुनिया के अलग-अलग देशों में अपना अहम योगदान दिया है। कोरोना काल में पटना के डॉ. निखिल अग्रवाल को चिकित्सा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने की वजह से अमेरिका डेक्सटर एस लेवी, एमडी रेसिडेंट अवार्ड-2020 से सम्मानित किया गया। साथ ही इन्हें एमडी की उपाधि प्रदान की गई। यह अवार्ड स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ न्यूयार्क, बफेलो की ओर से प्रदान किया गया।

दरअसल, इस कार्यक्रम का आयोजन यूनिवर्सिटी के इंटरनल मेडिसिन विभाग की ओर से किया गया था। उन्हें यह पुरस्कार कोरोना संकट दौरान पूरे समर्पण के साथ इलाज करने और अपने विषय में बेहतर शिक्षण योग्यता के कारण दिया गया। उनका चयन कार्डियोलॉजी सुपरस्पेशियलिटी में फेलोशिप के रूप में यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास एवं एमडी एंडरसन कैंसर सेंटर ह्यूस्टन में तीन वर्षीय कोर्स के लिए हुआ है, जो कि वहां का सर्वश्रेष्ठ यूनिवर्सिटी व शेाध संस्थानों में से एक है।

डॉ. निखिल पटना के राजेंद्रनगर के डॉ. निरंजन अग्रवाल और डॉ. उषा अग्रवाल के पुत्र हैं। इन्होंने प्रारंभिक शिक्षा पटना के डीपीएस एवं दिल्ली के डीपीएस आरके पुरम से पूरी की। दिल्ली के मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी कर उच्च शिक्षा के लिए अमेरिका चले गए थे। अवार्ड मिलने पर उनके माता-पिता और रिश्तेदार काफी खुश हैं।

अन्य खबरें