पटना सर्राफा बाजार में कभी स्थिर तो कभी घटती बढ़ती रही सोने व चांदी की दरें

Smart News Team, Last updated: Sun, 23rd May 2021, 7:25 AM IST
  • कोरोना संक्रमण के चलते पूरे सप्ताह सोने व चांदी की कीमत ऊपर नीचे होती रही. जिससे व्यापारियों में बेचैनी देखने को मिली. जिसके चलते ग्राहक असमंजस की स्थिति में आते हुए दिखाई दिए.
23 मई को सोने व चांदी के भाव

कोरोना संक्रमण के चलते पूरे सप्ताह सोने व चांदी की कीमत ऊपर नीचे होती रही. जिससे व्यापारियों में बेचैनी देखने को मिली. जिसके चलते ग्राहक असमंजस की स्थिति में आते हुए दिखाई दिए.

पटना. व्यापारियों ने अनुमान लगाया था कि इस बार त्यौहार व सहालग पर सोने व चांदी की कीमतों में अच्छी उछाल होगी. मगर संक्रमण से उनकी यह मंशा पूरी नहीं हो सकी और कीमतें घटती बढ़ती रहीं.

बीते 17 मई को 24 कैरट सोने की कीमत 46070 रही जबकि चांदी 71000 पर खुली. इसी तरह 18 मई को 46330 सोना तथा 72000 चांदी रही. 19 मई को सोना 46640 चांदी 74000 पर आकर रुक गई. 20 मई को सोने में उछाल आया और सोना 46650 तथा उछाल के साथ चांदी 73000 रुपए हो गई. 21 मई को सोना 47000 चांदी 72300 रही जबकि 22 मई शनिवार को सोना 47000 तथा चांदी 71200 पर रुक गई.

17 मई को 22 कैरट सोने की कीमत 45070 रही. इसी तरह 18 मई को 45330 सोना, 19 मई को सोना 45640 पर आकर रुक गई. 20 मई को सोने में उछाल आया और सोना 45650, 21 मई को सोना 46000 रही जबकि 22 मई शनिवार को सोना 46000 पर रुक गई.

पूरे सप्ताह चले उतार-चढ़ाव से व्यापारियों में खासी बेचैनी देखी गई. इस बार त्यौहार उनके लिए कुछ खास नही रहा क्योंकि सर्राफा बाजार ने अपनी चाल को स्थिर न रखते हुए उतार-चढ़ाव रखा. इसी तरह से सब्जी बाजार उतार-चढ़ाव के साथ खुलता हुआ दिखाई दिया. त्योहार व सहालग के समय सब्जी के दामों में जरूर तेजी आई जिससे किसानों को इसका फायदा मिला.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें