बिहार के बड़े हार्ट स्पेशलिस्ट डॉक्टर प्रभात कुमार की कोरोना से हैदराबाद में मौत

Smart News Team, Last updated: Tue, 18th May 2021, 9:32 PM IST
  • बिहार के मशहूर ह्रदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर प्रभात कुमार का आज शाम निधन हो गया. डॉ प्रभात कुमार का पिछले कई दिनों से हैदराबाद के किम्स कॉलेज में कोरोना का इलाज चल रहा था. उनके निधन के बाद से ही चिकित्सा जगत सहित कई लोगों ने उनके निधन पर दुख जताया है.
हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ प्रभात कुमार का हैदराबाद के किम्स अस्पताल में निधन. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार के जाने-माने हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर प्रभात कुमार का हैदराबाद के किम्स हॉस्पिटल में मंगलवार शाम को निधन हो गया. डॉ प्रभात कुमार पिछले कई दिनों से कोरोना संक्रमण से जूझ रहे थे. उनके परिवार के सदस्यों ने उनके बेहतर इलाज के लिए पटना के मेडिवर्सल अस्पताल से निकाल कर एयर एंबुलेंस की मदद से 5 मई को हैदराबाद किम्स अस्पताल में एडमिट कराया गया. शुरुआती इलाज के बाद डॉक्टरों ने उनके खराब हो चुके फेफड़े का ट्रांसप्लांट करने की योजना में थे. फेफड़े के ट्रांसप्लांट से पहले ही उनकी अचानक तबियत खराब होने की वजह से मंगलवार को उनका निधन हो गया.उनके निधन से चिकित्सा जगत के सभी लोगों ने गहरा शोक जताया हैं. 

डॉ प्रभात कुमार के पत्नी, बेटा और दो लड़कियां डॉ प्रभात कुमार के निधन से गम में है. उनके निधन पर एम्स के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर संजीव कुमार ने दुख जताया है साथ ही बिहार के कई पार्टियों के नेताओं, सामाजिक कार्यकर्ताओं , अन्य रोग विशेषज्ञ ने भी उनके निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है. डॉ प्रभात कुमार हमेशा से पढ़ाई में अव्वल रहे हैं. उन्होंने रिम्स रांची से एमबीबीएस किया. उसके बाद उन्होंने एमडी पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल से किया. उन्होंने कई मशहूर अस्पतालों में अपनी सेवाएं दी हैं और कई लोगों की जान भी बचाई है.

लालू यादव का नीतीश सरकार पर हमला, कहा- मौत का आंकड़े छुपा रहे सत्ता में बैठे लोग

काबिल ह्रदय रोग विशेषज्ञ होने के कारण डॉ प्रभात कुमार को आए दिन ऐम्स और फोर्टिस जैसे बड़े अस्पताल संस्थानों में क्रिटिकल केस के लिए बुलाया जाता था. उनसे इलाज कराने के लिए मरीज बंगाल, झारखंड, असम, यूपी और नेपाल से भी आता थे. उनके मौत की सूचना के बाद से ही पटना शहर चिकित्सा जगत में शोक का माहौल है. इनसे इलाज कराने वाले लोग और जानने वाले उनके घर पहुंच रहे हैं. फिलहाल परिवार के लोग हैदराबाद से पार्थिव शरीर को पटना लाने की तैयारी कर रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें