कोरोना काल में पटना HC ने जमानत देने के लिए दिया अनोखा दंड, हर तरफ हो रही चर्चा

Smart News Team, Last updated: 02/06/2020 09:17 PM IST
  • कोरोना वायरस के दौर में पटना हाईकोर्ट में अनोखा सजा देने के ऐसे कई मामले आए हैं, जो चर्चा का विषय बन चुका है। पटना हाईकोर्ट ने अभियुक्तों को जमानत देने के लिए एक ऐसी शर्त रखी कि कोई उसे इनकार नहीं कर सका।
Patna High Court

कोरोना वायरस के दौर में पटना हाईकोर्ट में अनोखा सजा देने के ऐसे कई मामले आए हैं, जो चर्चा का विषय बन चुका है। पटना हाईकोर्ट ने अभियुक्तों को जमानत देने के लिए एक ऐसी शर्त रखी कि कोई उसे इनकार नहीं कर सका। सभी ने उसे सहर्ष स्वीकार कर आदेश का पालन किया। कोर्ट ने इन सबको सजा दी कि जब्त शराब की मात्रा के हिसाब से पीएम केयर फंड में दंड शुल्क जमा कराए।

जमानत से पहले रकम इस फंड में जमा करनी पड़ती थी। इस तरह धीरे-धीरे पीएम केयर फंड में तीन लाख से ज्यादा पैसा जमा हो गए। इस अनोखे दंड शुल्क की चर्चा हो रही है। हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति अंजनी कुमार शरण की एकलपीठ ने खासकर दारु मामले में जमानत देने के लिए एक शर्त पीएम केयर फण्ड में पैसा जमा करने की रखी। यह रकम अभियुक्तों के पास से बरामद दारु के हिसाब से तय की जाती है। जिसके पास से कम दारु बरामद, उसे कम रकम जमा करने का आदेश दिया। दारु की मात्रा ज्यादा तो दंड शुल्क भी ज्यादा देना पड़ा।

एक मामले में ट्रक पकड़े जाने पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया था। अन्य मामलों में पांच हजार, दस हजार, सात हजार रुपये जुर्माना लगाया गया था। सबसे कम तीन हजार रुपये का जुर्माना लगाया जा चुका है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें