पटना हाईकोर्ट ने नीतीश सरकार से पूछा- आखिर कहां गए ऑक्सीजन सिलेंडर?

Smart News Team, Last updated: 07/05/2021 11:46 PM IST
  • बिहार में ऑक्सीजन की कमी को लेकर पटना हाईकोर्ट ने शुक्रवार को नीतीश सरकार से कई सवाल पूछे. हाईकोर्ट ने सरकार से पूछा कि आखिर ऑक्सीजन सिलेंडर कहां गए? कोर्ट ने ये भी पूछा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी क्यों है?
बिहार में ऑक्सीजन के संकट को लेकर पटना हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. प्रतीकात्मक तस्वीर

पटना. बिहार में ऑक्सीजन संकट को लेकर पटना हाईकोर्ट ने सख्ती दिखाई है. पटना मेडिकल कॉलेज में जरूरत से ज्यादा ऑक्सीजन की सप्लाई दिखाई गई. कमी होने पर पटना हाईकोर्ट ने शुक्रवार को नीतीश सरकार से पूछा कि आखिर ऑक्सीजन सिलेंडर कहां गए? कोर्ट ने सरकार से कई सवाल किए. जिसका बिहार सरकार जवाब नहीं दे पाई.

मुख्य न्यायाधीश वाली खंडपीठ ने कोविड के इलाज में ऑक्सीजन की दिक्कतों पर राज्य सचिव की ओर से दाखिल हलफनामे पर विचार किया गया. इस मामले की सुनवाई के दौरान जस्टिस शिवाजी पांडे बिहार सरकार से कई सवाल पूछे? कोर्ट ने पूछा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी क्यों है? होम आइसोलेशन में रह रहे गंभीर मरीजों को जरूरत पड़ने पर ऑक्सीजन सिलेंडर कैसे पहुंचाया जाएगा?  हाईकोर्ट ने सरकार को सोमवार तक जवाब दाखिल करने को कहा है.

महावीर आरोग्य संस्थान में कोविड अस्पताल शुरू, अमेरिका के डॉक्टर देंगे सलाह

खंडपीठ ने मुख्य सचिव से ये भी पूछा कि प्रदेश में 18 से 45 साल के लोगों को कब से कोविड का टीका लगना शुरू होगा? इस मामले की अगली सुनवाई सोमवार को होगी. सुनवाई के दौरान मुख्य सचिव की ओर से हलफनामे में कहा गया कि सूबे में जिस रफ्तार से कोविड मरीजों की संख्या बढ़ रही है. उसके मुताबिक बिहार को हर रोज 300 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है. 

बिहार स्वास्थ्य मंत्री ने बताया हेल्पलाइन नंबर, बोले-मिलकर कोरोना से जीतेंगे जंग

केन्द्र सरकार की ओर से एडिशनल सॉलिसिटर जनरल ने कोर्ट को कहा कि केन्द्र सरकार राज्य सरकार को 7 ऑक्सीजन टैंकर जल्द ही उपलब्ध करा देगी. दो टैंकर दो दिनों के भीतर पहुंच जाएंगे. सात टैंकर के मिलने के बाद बिहार सरकार रोजाना 300 मीट्रिक ऑक्सीजन का उठाव कर सकेगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें