रूपेश सिंह हत्याकांड: संदिग्ध कॉल डिटेल ने बदली जांच की दिशा, बिल्डर से हो रही कड़ी पूछताछ

Smart News Team, Last updated: Tue, 2nd Feb 2021, 12:35 PM IST
  • पटना में इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह हत्याकांड मामले में पुलिस को एक संदिग्ध कॉल डिटेल मिली है, जिसके बाद पूरे मामले के जांच की दिशा ही बदल गई. खगौल से हिरासत में लिए गए बिल्डर से पुलिस पूछताछ कर रही है. 
इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या के बाद पुलिस अब उनके बैंक अकाउंट की जांच में जुटी.

पटना. पटना में इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह हत्याकांड मामले में पुलिस को मिली एक संदिग्ध कॉल डिटेल ने जांच की दिशा बदल दी है. घटना के 19 दिन बाद पुलिस को अहम सुराग मिले हैं. पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने अब तक 600 मोबाइल नंबरों की कॉल डिटेल खंगाली है. इनमें से एक संदिग्ध नंबर मिला है, जिसके जरिए पुलिस मामले की जांच नए सिरे से शुरू कर दी है. इसी के आधार पर एसआईटी ने खगौल से एक बड़े बिल्डर को हिरासत में लिया है. एसआईटी बिल्डर से कड़ाई से पूछताछ कर रही है.

मिली जानकारी के अनुसार बिल्डर, उसकी पत्नी समेत चार संदिग्धों से पुलिस ने पिछले 48 घंटे में पूछताछ किया. पुलिस सूत्रों की माने तो बिल्डर से पूछताछ में पुलिस को हत्याकांड के बारे में अहम जानकारी मिली है. बताया जा रहा है कि जल्द ही पुलिस इस मामले में बड़ा खुलासा कर सकती है.

नीतीश सरकार कैबिनेट का कभी भी हो सकता है विस्तार, दिल्ली रवाना हुए BJP के कई नेता

पुलिस सूत्रों ने बताया कि हिरासत में लिए गए बिल्डर की इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह से नजदीकियों की जांच भी पुलिस कर रही है. पुलिस ने बिल्डर को हिरासत में लेने के बाद रूपेश सिंह के परिजानों से भी पूछताछ की है.

बिहार पंचायत चुनाव: ये लोग नहीं लड़ पाएंगे इलेक्शन, जानें चुनाव आयोग ने किन पर लगाई रोक

इस हत्याकांड में शामिल रहे दो शूटरों की पहचान हो गई है. साथ में लाइनर की भी पहचान हो गई है. ये दोनों शूटर बाइकर्स गैंग से जुड़े हैं. एसआईटी इन दोनों शूटरों की तलाश कर रही है, इसलिए एसआईटी लगातार छापेमारी कर रही है, लेकिन शूटर लगातार ठिकाने बदलकर पुलिस को चकमा देकर फरार हो जा रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें