पटना: लॉकडाउन की मार नहीं झेल सका ज्वेलर, आर्थिक तंगी में आकर लगाई फांसी

Smart News Team, Last updated: 03/07/2020 01:26 PM IST
  • कोरोना लॉकडाउन की वजह से आर्थिक तंगी झेल रहे पटना के एक ज्वेलर ने फांसी लगाकार आत्महत्या कर ली है।
प्रतीकात्मक फोटो

पटना. कोरोना लॉकडाउन में काम-कारोबार ठप होने से काफी संख्या में लोगों पर आर्थिक रूप से असर पड़ा है। राजधानी पटना के बाकरगंज में एक जेवर के दुकानदार ने इसी वजह से खुदकुशी जैसा कदम उठाया है। लॉकडाउन में काम बंद होने की वजह से आर्थिक तंगी झेल रहे ज्वेलर ने आखिरकार हिम्मत हारते हुए फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया।

मिली जानकारी के अनुसार, मृतक बाकरगंज में जेवर की दुकान चलाते थे। 24 मार्च को कोरोना की वजह से लगाए लॉकडाउन में उनकी दुकान बंद रही। तीन महीने बाद भी बाजार नहीं खुले तो आर्थिक तंगी आने लगी। इस वजह से परेशान ज्वेलर अवसाद में रहने लगे। गुरुवार को उन्होंने कमरे के अंदर फंदा लगाकर फांसी लगा ली।

फिर टूटेगा कुदरत का कहर? पटना में 48 घंटे तक वज्रपात और बारिश की चेतावनी

बता दें कि कोरोना लॉकडाउन में काफी संख्या में लोगों के काम कारोबार ठप हो गए जिस वजह से लाखों की संख्या में लोग आर्थिक तंगी की मार झेलने के लिए मजबूर हो गए। हालांकि, वर्तमान अनलॉक 2 फेज शुरू हो गया है और राज्य में बाजारों को खोलने की अनुमति दे दी गई है। धीरे-धीरे राजधानी का बाजार और काम कारोबार पटरी पर लौट रहा है।

अन्य खबरें