लेनदेन विवाद मे जमीन कारोबारी ने रची बिजनेस पार्टनर की हत्या की साजिश,7 गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 16/10/2020 02:33 AM IST
  • 75 लाख रुपये के लेनदेन विवाद में जमीन कारोबारी द्वारा बिजनेस पार्टनर की हत्या की साजिश रचने का मामला सामने आया है. इस पूरे मामले में 7 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है.
75 लाख रुपये के लेनदेन विवाद में जमीन कारोबारी द्वारा बिजनेस पार्टनर की हत्या साजिश रचने का आरोप लगाया है

पटना: 75 लाख रुपए के लेनदेन के विवाद में जमीन के कारोबारी ने अपने बिजनेस पार्टनर की हत्या की साजिश रच डाली. इसके लिए उसने कॉन्ट्रैक्ट किलरों की मदद ली. पांच लाख रुपये में हत्या करने का ठेका भी सुपारी किलरों को दे दिया गया. बीते बुधवार को लाइनर सुपारी किलर और खुद मास्टरमाइंड चंदन मलाही पकड़ी के पास खड़ा था. इसी बीच पुलिस को इसकी सूचना मिली पुलिस ने मास्टरमाइंड दीदारगंज के फतेहपुर के रहने वाले चंदन समेत 7 अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया.

एसएसपी उपेंद्र शर्मा के मुताबिक दीदारगंज के जिस व्यवसाई की हत्या की जानी थी, वह मलाही पकड़ी स्थित एक अस्पताल में अपने परिजन का इलाज करा रहे थे. वे भी जमीन के कारोबार से जुड़े हैं. मौका देखते ही उन्हें मौत के घाट उतारने की साजिश रची गई थी. पुलिस ने अपराधियों के पास से तीन देसी पिस्टल, 8 जिंदा कारतूस, एक मैगजीन, 2 पल्सर बाइक, एक स्प्लेंडर और एक चार पहिया गाड़ी बरामद की है. चंदन के अलावा बबलू कुमार (राघोपुर, वैशाली), रंजीत कुमार (जुड़ावनपुर वैशाली), बंटी कुमार उर्फ रोहित कुमार (मेहंदी नगर, समस्तीपुर), आशीष कुमार (जुड़ावनपुर,वैशाली), प्रवीण कुमार सिंह (बैरिया, गोपालपुर) और अनीश कुमार (जुड़ावनपुर, वैशाली) को गिरफ्तार किया है.

अजय हत्याकांड में शामिल था प्रवीण

पुलिस के हत्थे चढ़ा प्रवीण पूर्व में गौरीचक थाना इलाके में हुए अजय राय हत्याकांड में भी शामिल था. इस मामले में वह जेल भी जा चुका है. वहीं रंजीत, अनीश और बंटी अलग-अलग मामलों में जेल की हवा खा चुके हैं. इन सभी को हत्या की सुपारी दी गई थी. प्रवीण, लवलू, आशीष और प्रवीण ने हत्या की सुपारी ली थी. लवलू इन सभी का सरगना है.

चंदन था अपराधियों का लाइनर

पुलिस की जांच में यह बात सामने आयी है कि व्यवसायी का बिजनेस पार्टनर चंदन ही अपराधियों का लाइनर था. वह रंजीत और बंटी के साथ अस्पताल के नीचे अपनी कार पर सवार था जहां व्यवसायी अपने परिजन का ईलाज करवा रहे थे. अपराधियों को पहचान करवाने के बाद वह वहां से निकल जाता. लेकिन इसी बीच पुलिस ने उसे पकड़ लिया.

पैसे के लिये बनो रहे थे दबाव तो रच दी साजिश

पैसे के लिये दीदारगंज के व्यवसायी बार-बार चंदन पर दबाव बना रहे थे. दो-तीन बार दोनों के बीच तीखी नोंक-झोंक तक हो गयी थी. इसके बाद उसने अपने बिजनेस पार्टनर की हत्या की साजिश रच डाली.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें