पटना: पिता की हुई मौत, बेटी रात भर शव के साथ सोती रही, वीडियो कॉल से हुआ खुलासा

Smart News Team, Last updated: Thu, 29th Apr 2021, 3:31 PM IST
  • पटना में एक पिता के मौत के बाद भी छह साल की बच्ची शव से रातभर लिपट कर सोती रही. पिता के मौत का खुलासा तब हुआ जब मृतक के एक दोस्त ने वीडियो कॉल किया.
पिता के शव के साथ रातभर सोई 6 साल की मासूम. (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

पटना. पटना से दिल झकझोर देनी वाला मामला सामने आया है. जिसमे पिता की मौत हो जाने के बाद भी बेटी पूरी रात शव के साथ लिपट कर सोई रही. वही पिता के मौत का पता तब चला जब मृतक के एक दोस्त ने कॉल किया. जब मृतक के दोस्त ने कॉल किया तो बेटी ने बताया कि पापा सो रहे है और उठ नहीं रहे है. इसकी जानकारी उन्होंने कोविड हेल्पलाइन पर कॉल करके दिया. जिसके बाद पुलिस ने मृतक को कोरोना पॉजिटिव मानकर कोविड प्रोटोकॉल की तहत उसका अंतिम संस्कार करवाया.

जानकारी के अनुसार प्रभात कुमार रामकृष्ण नगर में एक किराए के मकान में रहते थे. जो पटना जंक्शन के पास हार्डवेयर की दुकान चलाते थे. वही उनकी पत्नी से विवाद होने के बाद वह अपने मायके बिहटा चली गई थी. प्रभात अपनी छह साल की बेटी के साथ वहां पर रहता था. कुछ दिन पहले ही उसकी तबियत खराब हुई थी. जिसके कारण वह घर पर ही अपना इलाज करवा रहे थे, लेकिन हालत बिगड़ने पर उनकी मौत मंगलवार की रात को ही हो गई.

पटना HC की नीतीश सरकार को फटकार, कहा- ऑक्सीजन नहीं तो अस्पतालों में बेड करें कम

वही मौत के बाद उसकी बेटी रात भर अपने पिता के शव के साथ ही सोई रही. जब सुबह प्रभात का मकान मालिक घर पर आया तो बेटी को खेलता देख पूछा कि पापा कहां हैं. जिसपर बेटी ने कहा कि वह सो रहे है. वही मकान मालिक ने बेटी को बिस्किट खिलाया और वापस चले गए. उसके बाद प्रभात के मित्र ने उसे काल किया, लेकिन कॉल बेटी ने उठाया जिसपर राकेश ने पूछा कि पापा कहा है तो बेटी ने बताया कि वह सो रहे है, लेकिन उठ नहीं रहे है. जिसके बाद राकेश ने उसे वीडियो कॉल किया और प्रभात को दिखाने के लिए कहा पाप को दिखाओ. वही प्रभात के शरीर मे कोई हरकत ना होते हुए देख राकेश ने कोरोना हेल्पलाइन पर फ़ोन कर इसकी जानकारी दी.

कोरोना काल में शादी! संक्रमण से बचने के लिए बदला स्टाइल,लोग अपना रहे अब ये तरीके

सूचना मिलने के बाद पुलिस प्रभात के घर पहुंची और कोरोना पॉजिटिव मानकर शव का दाह संस्कार कर दिया. वहीं बेटी को मकान मालिक को सौंप दिया. बच्ची का कोरोना टेस्ट कराने के बाद उसे उसके स्वजन के हवाले कर दिया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें