पटना

कोरोना के खौफ में मरीज ने पटना एम्स में लगाई फांसी, बाद में रिपोर्ट आई नेगेटिव

Smart News Team, Last updated: 22/06/2020 07:59 PM IST
  • राजधानी पटना के एम्स अस्पताल में कोरोना संक्रमित एक व्यक्ति ने खौफ में आत्महत्या कर ली। लेकिन बाद में आई दूसरी रिपोर्ट में वह नेगेटिव पाया गया।
कोरोना के खौफ ने ले ली जान, पटना एम्स में लगाई फांसी

पटना. कोरोना वायरस के खौफ में आकर एक संक्रमित व्यक्ति ने पटना एम्स में आत्महत्या कर ली। दिल्ली से लौटने के बाद 15 जून को मृतक ने एम्स अस्पताल में अपनी कोरोना जांच कराई थी जिसमें वह पॉजिटिव पाया गया। संक्रमित होने की रिपोर्ट आते ही उसे अस्पताल में भर्ती कर लिया गया। इलाज के दौरान कोरोना का डर उसके मन में बैठ गया। सोमवार को इस डर की वजह से उसने आइसोलेशन वार्ड में फांसी लगाकर जीवनलीला समाप्त कर ली। बाद में आई उसकी दूसरी रिपोर्ट नेगेटिव निकली।

मिली जानकारी के अनुसार, मृतक की पहचान पटना के खगोल निवासी तबरेज के रूप में हुई है। वह डायबिटीज से भी पीड़ित था। 15 जून को कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे अस्पताल में भर्ती किया गया। डॉक्टरों की मानें तो वह तेजी से स्वस्थ्य भी हो रहा था। रविवार को दूसरी बार उसका सैंपल टेस्ट के लिए लिया गया।

सोमवार शाम को कोरोना के दूसरे टेस्ट रिपोर्ट आनी थी। लेकिन इससे पहले चार बजे के आसपास ही तबरेज ने आइसोलेशन वार्ड में फांसी लगा ली। शाम साढ़े पांच बजे उसकी दूसरी रिपोर्ट आई जिसमें वह नेगेटिव निकला। तबरेज की मौत का सभी को अफसोस है। अगर वह कुछ देर और रुक जाता तो शायद अपनी दूसरी रिपोर्ट देखकर इतना बड़ा कदम नहीं उठाता।

अन्य खबरें