पटना एम्स- NMCH के बाद PMCH में प्लाज्मा थेरेपी से शुरू हुआ कोविड मरीजों का इलाज

Smart News Team, Last updated: Thu, 27th Aug 2020, 12:16 AM IST
  • राजधानी पटना के एम्स और एनएमसीएच के बाद पीएमसीएच अस्पताल में प्लाज्मा थेरेपी से गंभीर कोरोना मरीजों का इलाज शुर कर दिया गया है.  
पीएमसीएच में प्लाज्मा थेरेपी से इलाज करते डॉक्टर

 बुधवार को पटना के पीएमसीएच अस्पताल में गंभीर रूप से पीड़ित कोरोना संक्रमितों का इलाज प्लाज्मा थेरेपी से शुरू कर दिया गया है. मंगलवार को प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल की अध्यक्षता में की गई रोगी कल्याण समिति की बैठक में इसका फैसला किया गया था. इससे पहले पटना के एनएमसीएच और एम्स में प्लाज्मा थेरेपी से इलाज किया जा रहा था.

मालूम हो कि प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना से उबरे मरीजों के शरीर के प्लाज्मा को दूसरे संक्रमित मरीजों के शरीर में डाला जाता है. प्लाज्मा ट्रांसफर होने के बाद संक्रमित के शरीर में कोरोना से लड़ने की क्षमता के लिए एंटीबॉडी बन जाती है.

पटना के अगमकुआं में 8 साल की बच्ची से रेप, आरोपी की मॉब लिंचिंग में मौत

राजधानी पटना के एम्स और एनएमसीएच में प्लाज्मा थेरेपी का इलाज सफलतापूर्वक किया जा रहा है. आईजीआईएमएस के साथ समन्वय करते हुए अब पटना मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में प्लाजमा थेरेपी से कोरोना संक्रमितों का ईलाज किया जाएगा.

बिहार चुनाव: सोनिया, राहुल,प्रियंका को ये 6 कांग्रेस नेता फाइनल टिकट लिस्ट देंगे

बता दें कि प्लाज्मा थेरेपी को दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार समेत कई राज्य अपना रहे हैं. प्लाज्मा से कोरोना मरीज के ठीक होने उम्मीद काफी हो जाती है. इसी वजह से सरकार कोरोना से ठीक हो रहे मरीजों से प्लाज्मा डोनेट करने की अपील भी कर रही हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें