Patna Metro: पटना की रफ्तार बढ़ाएगी मेट्रो, सबसे पहले शुरू होगा ये रूट

Pallawi Kumari, Last updated: Tue, 7th Sep 2021, 6:01 AM IST
  • पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का काम तेजी से किया जा रहा है. पिछले साल ही मेट्रो परियोजना के काम की शुरुआत की गई थी. उम्मीद है आने वाले कुछ सालों में जल्द ही मेट्रो से राजधानी की रफ्तार बढ़ेगी. फिलहाल महज पांच प्रतिशत काम पूरा हुआ है.
पटना मेट्रो. फोटो साभारा-हिन्दुस्तान टाइम्स

पटना: बिहार की राजधानी पटना में बीते एक दशक में आधारभूत संरचनाओं का निर्माण,फ्लाइओवर-ओरब्रिज ,सड़कों का चौड़ीकरण, एतिहासिक बिहार संग्रहालय, सम्राट अशोक कन्वेंशन सेंटर जैसे कई बदलाव देखे गए. इसी कड़ी में मेट्रो रेल भी जुड़ गया है. पटना में मेट्रो रेल की सुविधा का सफर भी पटनावासी जल्द कर सकेंगे. मेट्रो रेल में सफर अब पूरा होता दिख रहा है. दरअसल पिछले साल शुरु हुए पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का काम में रफ्तार तेज हुई है, जिससे अनुमान लगाया जा रहा है कि आने वाले 40-42 महीनों में मेट्रो रेल का काम पूरा कर लिया जाएगा.

पटना में मेट्रो की सुविधा होने से जाम की समस्या कम होगी और सुगम आवागमन के लिए यह एक महत्वपूर्ण साधन होगा. खसाकर नौकरी पैशा, कॉलेज और व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिए ये सुविधाजनक होगी. पटना में कुल 32 में किलोमीटर मेट्रो का संचालन होगा. वहीं 18 किलोमीटर में मेट्रो अंडरग्राउंड चलेगी.जबकि 14 किलोमीटर वाले एरिया में एलिवेटेड ट्रैक चलेगी.

पटना IGIMS में अगले साल शुरू हो जाएगी रोबोटिक सर्जरी, डॉक्टरों को दी जा रही स्पेशल ट्रेनिंग

पिछले साल ही पटना में मेट्रो परियोजना के काम की शुरुआत हो चुकी है. 2023 मार्च तक मेट्रो का काम पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है, लेकिन अभी महज पांच प्रतिशत ही काम पूरा हुआ है. काम की गति देख लक्ष्य समय तक इसके पूरा होने की संभावना कम है. अधिकारियों का कहना है कि 2024 के अंत कर मेट्रो ट्रेनों का संचालन शरू हो जाएगा.

पटना डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि, मेट्रो निर्माण एजेंसी को जिला प्रशासन की ओर से जरूरत के मुताबिक सुविधाए मुहैया कराई जा रही है. पटना मेट्रो परिचालन ने लिए ट्रैक, स्टेशन और डिपो का का निर्माण तय समय पर पूरा हो इसके लिए हर प्रयास किया दा रहा है. मैं खुद समय-समय पर प्रोजेक्ट मॉनिटिरिंग कमेटी में इसकी समीक्षा करता हूं.

सबसे पहले शुरू होगा ये रूट-फिलहाल मलाही पकड़ी पर काम चल रहा है. पहले चरण में आईएसबीटी, बैरिया तक के कोरिोर का निर्माण होना है. आईएसबीटी के पास मेट्रो डिपो भी बनना है. सबसे पहले मलाही पकड़ी से आइएसबीटी यानी नए बस स्टैंड तक परिचालन शुरू होना है.

जातीय जनगणना को लेकर CM नीतीश बोले- अभी PM मोदी की ओर से नहीं मिला कोई जवाब

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें