पटना : कम पैसा देकर इन घाटों पर करवा सकेंगे अंतिम संस्कार, निगम ने की नई व्यवस्था

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Wed, 8th Dec 2021, 7:35 AM IST
  • पटना नगर निगम ने तय किया है कि शव का अंतिम संस्कार करने में इस्तेमाल की गई 7 मन आम की लकड़ी पर 2300 रूपए, 9 मन का 2600 व 11 मन का 2900 रूपए देना होगा. इसके आलावा शव को जलाने व लकड़ी को गाड़ने के लिए 300 रूपए, नाई को सौ रूपया, पंडित को 100 रूपया और डोम राजा को 5 सौ रूपए देकर दाह संकार करवा सकेंगे.
प्रतीकात्मक फोटो

पटना. पटना के गुल्बी घाट, बांस घाट और खाजेकलां घाट पर शव का अंतिम संस्कार कराने के लिए अब मनमानी पैसा नहीं देना पड़ेगा. लोग कम पैसे देकर दाह संस्कार करा सकेंगे. पटना नगर निगम ने शव को जलाने के लिए इस्तेमाल की गई 7 मन आम की लकड़ी के लिए 2300 रूपए, 9 मन का 2600 रूपया व 11 मन का 2900 रूपया निर्धारित कर दिया है. निगम ने फैसला किया है कि अब शव को जलाने व लकड़ी को गाड़ने के लिए 300 रूपए देना होगा. इसके आलावा इस काम में लगे नाई को सौ रूपया, पंडित को 100 रूपया और डोम राजा को 5 सौ रूपया देकर दाह संकार करवा सकेंगे.

अब श्मशान घाटों पर शव का दाह संस्कार करवाने में काम आए लकड़ी विक्रेता, नाई और पंडित की मनमानी का शिकार नहीं होना पड़ेगा. मंगलवार से पटना नगर निगम ने सभी का शुल्क तय कर दिया है. पटना मेयर सीता साहू ने गुल्बी घाट, बांस घाट और खाजेकलां घाट पर उद्घाटन कर इस नई व्यवस्था को लागू कर दिया है.

ऑपरेशन शराबबंदी: पटना का बड़ा डॉक्टर नशे में तो इंजीनियर दारू संग गिरफ्तार

मेयर ने बताया है कि पटना के गुल्बी घाट, बांस घाट और खाजेकलां घाट पर भामाशाह फाउंडेशन की मदद से दाह संस्कार की नई व्यवस्था को लागू की गई है. इस व्यवस्था को लागू करने से पहले नगर निगम की सशक्त स्थाई समिति ने सर्वसम्मति से इस प्रस्ताव को पारित किया गया था. उद्घाटन के दौरान उन्होंने कहा है कि इस नई व्यवस्था के तहत अब लोगों को कम शुल्क में दाह संस्कार की सुविधा मिलेगी. इसके लिए सभी घाटों पर निर्धारित शुल्क को दीवारों पर प्रदर्शित भी किया जाएगा. लकड़ी से दाह संस्कार करवाने के आलावा विद्युत शवदाह गृह में सरकारी मशीन पर जलाने के लिए 300 रूपए, शव को मशीन तक ले जाने के लिए 100 रूपए तय किए गए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें