पटना मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव गिरा, पार्षदों ने किया था हंगामा

Smart News Team, Last updated: 31/07/2020 06:04 PM IST
  • पटना नगर निगम की मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव गिर गया है. इससे पहले प्रस्ताव बैठक को स्थगित कर दिया गया था और अगली बैठक 3 दिन बाद रखी थी लेकिन आज ही वोटिंग का आयोजन कर लिया गया.
फोटो- बाईं तरफ विरोध करतीं पार्षद, दाईं तरफ पटना नगर निगम मेयर

पटना. राजधानी पटना नगर निगम की मेयर सीता साहू के खिलाफ अविश्वाश प्रस्ताव गिर गया है. मेयर सीता साहू की कुर्सी बनी रहेगी. इससे पहले मेयर के ही देरी से पहुंचने की वजह से इस संंबंध में होने वाली बैठक स्थगित कर दी गई थी. नगर आयुक्त ने बताया कि बैठक का कोरम पूरा होने के बाद भी विपक्ष ने हंगामा किया और यह कहकर की मेयर समय पर नहीं आई और कुछ विपक्षी पार्षद नहींं आए. इस आधार पर बैठक को स्थगित कर दिया जो पूरी तरह से अवैध था.

 बैठक की अध्यक्षता कर रही डिप्टी मेयर मीरा देवी ने बैठक को स्थगित करने का फैसला किया था और तीन बाद बैठक होने की बात कही थी. 

दरअसल गुरुवार को नगर निगम के मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए एक मीटिंग बुलाई थी. मीटिंग में सभी लोग पहुंच गए सिर्फ मेयर ही समय से नहीं पहुंची. इसी बात को लेकर विपक्ष पार्षदों ने हंगामा कर दिया. 

पटना SIT से बोलीं अंकित लोखंडे, सुशांत इतना कमजोर नहीं था कि सुसाइड कर ले

इसके बाद मीटिंग की अध्यक्षता कर रहीं उप मेयर मीरा देवी ने बैठक को अगले तीन दिनों के लिए स्थागित कर दिया. लेकिन कुछ समय बाद सभी लोगों के मौजूद होने और हंगामे के बीच अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग की गई और मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव गिर गया.

लालू यादव के समधी चंद्रिका राय कोरोना से संक्रमित, पटना एम्स में भर्ती

बता दें कि विरोध जताने वाले विपक्ष पार्षदों का आरोप था कि मेयर जानबूझकर देरी से बैठक में पहुंची हैं. जवाब देने के लिए उन्हें समय पर आना चाहिए था. विपक्षी पार्षदों ने आरोप लगाया कि उनके गुट के सात पार्षदों जो अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं उन्हें बैठक में आने से रोका गया है.

फोटो पटना नगर निगम अविश्वास प्रस्ताव
फोटो पटना नगर निगम अविश्वास प्रस्ताव
फोटो पटना नगर निगम अविश्वास प्रस्ताव

अन्य खबरें