राहत: पटना में थमने लगा कोरोना संक्रमण का कहर, कुछ ऐसा है बिहार का हाल

Smart News Team, Last updated: Thu, 30th Jul 2020, 10:22 PM IST
  • पटना में दो दिनों में करीब 2100 केस सामने आए हैं. जिससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 48 हजार हो गई है. प्रशासन का कहना है कि लोगों के द्वारा सावधानी बरती जा रही है.
पटना में दो दिन में करीब 2000 कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई है.

पटनावासियों के लिए राहत की खबर है कि कोरोना का कहर थमने लगा है. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पिछले दो दिनों में 410 नए संक्रमित मिले हैं. बिहार में गुरुवार को 2082 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान की गई. जिसमें से बुधवार के 1445 और उससे पहले के 637 कोरोना मरीज शामिल हैं. 

अधिकारियों के अनुसार पटना में संक्रमण बढ़कर 30 प्रतिशत हो गया था, जो अब घटकर 15 प्रतिशत ही रह गया है. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य में संक्रमितों की संख्या 48,001 हो गई है. वहीं करीब 250 लोगों की जान कोविड संक्रमण की वजह से जा चुकी है.  

पटना: नीतीश सरकार ने 16 अगस्त तक फिर बढ़ाया लॉकडाउन, पढ़ें पूरी गाइडलाइंस

आंकड़ों पर नजर डालें तो पटना के ग्रामीण इलाकों में पहले से मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिली है. सरकार ने सख्ती से कदम उठाते हुए कंटेनमेंट जोन और हॉट्स्पॉट्स पर कड़े पाबंद लगाए थे. जिससे पटना में संक्रमण को रोकने में मदद मिली है. डीएम रवि कुमार ने कहा कि लोगों द्वारा भी सावधानी बरती गई है. इसके लिए बार-बार अपील की जा रही है कि जरूरत नहीं होने पर घर से ना निकलें. विशेषरूप से कंटेनमेंट जोन में माइक से अनाउंस किया जा रहा है. 

पटना: बिहार में लॉकडाउन 16 अगस्त तक बढ़ा, पाबंदी में बीतेगा स्वतंत्रता दिवस

बिहार के अन्य शहरों में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी आई है. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 29 जुलाई को 1445 केस मिले थे. गुरुवार को भागलपुर में 96, गया में 66, मुजफ्फरपुर में 21 और पूर्णिया में 16 नए कोरोना केस मिले हैं. जानकारी के लिए बता दें कि बिहार सरकार ने दूसरे राउंड का लॉकडाउन 16 जुलाई से 31 जुलाई तक लगाया था. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें