पटना

पटना के नर्सिंग होम में घिनौना कारनामा, नवजात को बेच बोला- मृत था सो फेंक दिया

Smart News Team, Last updated: 10/07/2020 12:12 PM IST
  • पटना के एक प्राइवेट अस्पताल में नवजात को बेचने का मामला सामने आया है। राजधानी के स्टेशन रोड स्थित डिजायर नर्सिंग होम में ऑपरेशन के बाद पैदा हुए नवजात को बेचने के मामले में पुलिस ने तीन लोगों को दबोचा है।
New born baby (File Photo)

पटना के एक प्राइवेट अस्पताल में नवजात को बेचने का मामला सामने आया है। राजधानी के स्टेशन रोड स्थित डिजायर नर्सिंग होम में ऑपरेशन के बाद पैदा हुए नवजात को बेचने के मामले में पुलिस ने तीन लोगों को दबोचा है। दरअसल, डिजायर नर्सिंग होम में बच्चा बेचने के मामले में गुरुवार को पटना पुलिस ने केस दर्ज किया और तीन आरोपियों नर्सिंग होम संचालिका खुशबू रंजन, बिट्टू और दाई को गिरफ्तार कर लिया।

पटना में आज से 7 दिनों का लॉकडाउन शुरू, प्रशासन की पैनी नजर, क्या खुला-क्या बंद

इतना ही नहीं, पटना पुलिस ने गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपियों के साथ केस दर्ज कराने वाले पीड़ित व उसके परिजनों का भी बयान दर्ज किया है और मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है। पुलिस नर्सिंग होम के पंजीकरण आदि की भी जांच कर रही है, अगर इसमें गड़बड़ी पाई गई तो फिर इसके खिलाफ और कड़ा एक्शन लिया जाएगा।

दरअसल, पटना के खगौल के रहने वाले रंजन पासवान ने मंगलवार को अपनी गर्भवती पत्नी को फतुहा में स्टेशन रोड स्थित डिजायर नर्सिंग होम में भर्ती कराया था। उनका आरोप है कि नर्सिंग होम में ही ऑपरेशन के जरिए उसकी पत्नी ने नवजात को जन्म दिया, मगर अस्पताल प्रशासन का कहना है कि बच्चा मृत था और उसने फेंक दिया। इस पर रंजन की ओर से नर्सिंग होम संचालिका, दाई व बिट्टू के खिलाफ बच्चा बेचने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया गया।

पॉजिटिव रिपोर्ट के साथ पटना में भटकता रहा कोरोना मरीज, किसी ने एडमिट नहीं किया..

फतुहा थाना प्रभारी मनीष कुमार के मुताबिक, पीड़ित रंजन के आवेदन के आधार पर केस दर्ज किया गया है और नर्सिंग होम संचालिका समेत तीनों आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। प्रारंभिक जांच में बच्चे को बेचे जाने का आरोप सही प्रतीत हो रहा है। इस मामले में नर्सिंग होम द्वारा दिये गये प्रमाण पत्र व नर्सिंग होम के रजिस्ट्रेशन की भी जांच की जा रही है। इसके अलावा, सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस खंगालने में जुटी है।

अन्य खबरें