पटना: बांसघाट पर केवल कोरोना मृतकों का होगा अंतिम संस्कार, मंगाई जा रही लकड़ियां

Smart News Team, Last updated: 04/05/2021 04:52 PM IST
  • पटना के बांस घाट शवदाह गृह को अब सिर्फ कोरोना संक्रमित मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए चिन्हित किया गया है. नगर आयुक्त हिमांशु शर्मा ने आदेश देते हुए तत्काल ही घाट पर नि:शुल्क लकड़ियों की व्यवस्था करने के आदेश दिए हैं. वहीं पटना के विभिन्न घाटों के लिए बंगाल, सिक्किम से लकड़ियां मंगाई गई है.
पटना: बांसघाट पर केवल कोरोना मृतकों का होगा अंतिम संस्कार, मंगाई जा रही लकड़ियां

पटना. कोरोना संक्रमण से बढ़ रहे मौत के आंकड़े को देखते हुए प्रशासन ने बांस घाट को सिर्फ कोरोना संक्रमित लोगों के अंतिम संस्कार के लिए चिन्हित कर दिया है. इसी के साथ पटना के अन्य सभी घाटों पर कोरोना के साथ सामान्य व्यक्तियों के अंतिम संस्कार की व्यवस्था रहेगी. इसके लिए प्रशासन ने बंगाल और सिक्किम से लकड़ियां मंगाई हैं. जिन्हें कोरोना संक्रमित लोगों के लिए नि:शुल्क उपलब्ध कराया जाएगा.

पटना में मुख्य रूप से कई घाटों पर अंतिम संस्कार किया जा रहा है. लेकिन अब बांस घाट को सिर्फ कोरोना संक्रमितों के लिए स्थाई कर दिया गया है. हालांकि अन्य घाटों पर भी कोरोना संक्रमितों के अंतिम संस्कार किए जा सकेंगे. वहीं नंदगोला घाट पर भी प्रशासन ने अंतिम संस्कार के निर्दश दिये हैं. जहां पर लकड़ियों से दाह संस्कार करने की व्यवस्था की गई है. वहीं नंदगोला घाट पर सभी प्रमुख जगहों पर सीसीटीवी कैमरों के साथ सहायता बूथ और कंट्रोल रूम बनाया गया है. यहां पर माइक के माध्यम से लोगों को आवश्यक जानकारी दी जाएगी.

पटना: कोविड से जुड़े अस्पताल, टीका सेंटर, रिफिलिंग सेंटर को 24 घंटे बिजली मिलेगी

इसी के साथ प्रशासन ने गुलबी घाट, खाजेकलां घाट और नंदगोला घाट पर भी अंतिम संस्कार की व्यवस्था की है. जहां पर सभी लोगों का अंतिम संस्कार किया जा सकेगा. कोरोना के दौरान अंत्येष्टि घाटों पर बढ़ते दबाव के कारण घाटों की संख्या बढ़ाई गई है. इन सभी घाटों पर शवों के अंतिम संस्कार के लिए पटना निगम प्रशासन की ओर से सिक्किम, सिलिगुड़ी और कोलकाता से लकड़ियां मंगाई गई हैं.

पटना : PMCH में युवक की गोली मारकर हत्या, तफ्तीश में जुटी पुलिस

जानकारी के अनुसार अब तक गुलबी घाट पर 20 टन एवं खाजेकलां घाट पर 250 टन लकड़ी की व्यवस्था की गई है. वहीं 50 टन लकड़ी और मंगलवार तक इन घाटों पर पहुंच जाएगी. इसके अलावा लोगों से अपील की जा रही है कि घाट पर पहुंचने से पहले कंट्रोल रूम में कॉल करके समय लें और कम समय में अंतिम क्रिया को पूरा करने में सहयोग बनाएं.

बिहार सरकार का आदेश- बेमतलब बाहर निकलने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें