पटना पुलिस ने दुर्लभ प्रजाति की छिपकली के साथ तस्करों को दबोचा, कीमत करोड़ों में

Smart News Team, Last updated: Thu, 17th Sep 2020, 2:27 PM IST
  • पटना पुलिस ने एक गिरोह को पकड़ा गया है जो जानवरों की तस्करी से जुड़ा है. टोके गोके प्रजाति भारत सही कई अन्य देशो में दुर्लभ प्रजाति है.
पकड़े गए तस्करों के साथ पुलिस.

पटना. पटना पुलिस ने गुरुवार को जानवरों की तस्करी से जुड़े एक गिरोह को पकड़ा है. पुलिस ने तस्करों को टोके गेको दुर्लभ प्रजाति की एक छिपकली की तस्करी करते हुुए कुछ लोगों को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार होने केे बाद तस्करों के पास से जो छिपकली मिली है उसे बहुत ही दुर्लभ प्रजाति का बताया जा रहा है. छिपकली की बाजार किमत करोड़ों रुपये आंकी जा रही है. पटना पुलिस के लिए यह एक बड़ी कामयाबी है . इसलिए लोग इसका व्यापार अवैध रूप से करते है ताकि ज्यादा मुनाफा कमा सकें. बिहार में जंगली जानवरों की तस्करी को लेकर बढ़ती घटनाओं को देख पुलिस अब हरकत में नजर आ रही है. इसी के तहत राजधानी पटना में पुलिस को यह बड़ी कामयाबी हाथ लगी है.  

LJP ने नीतीश सरकार से कहा- SC/ST को वादे के मुताबिक जमीन दे फिर दिखाएंगे विश्वास

बरामद टोके गोके प्रजाति की छिपकली.

आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा नया पटना कलेक्ट्रेट भवन, CM नीतीश ने किया शिलान्यास

आपको बता दें कि टोके गोके प्रजाति भारत सही कई अन्य देशों में दुर्लभ प्रजाति है. जिसके चलते भारत में वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट 1972 के तहत इस प्रजाति की छिपकली का व्यापार करना अवैध है . अगर कोई व्यापार करता है तो उसे तीन साल तक की सजा का प्रावधान है. इस प्रजाति की छिपकली का इस्तेमाल दवाईयां और तेल तैयार करने के लिए किया जाता है जो मुख्य रूप से त्वचा और किडनी की रक्षा के लिए काम आता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें