पटना: स्टील कंपनी में 57 लाख रूपए लूट मामले में कर्मचारी ही निकला मास्टरमाइंड, गिरफ्तार

ABHINAV AZAD, Last updated: Fri, 10th Sep 2021, 9:10 AM IST
  • स्टील कंपनी अंकित मेटल एंड पावर लिमिटेड के एग्जीबिशन रोड स्थित कैश कलेक्शन ऑफिस से 57 लाख 49 हजार लूट मामले में नया मोड़ आ गया है. दरअसल, कंपनी का स्टाफ ही इस पूरे वारदात का मास्टरमाइंड निकला.
पटना पुलिस ने स्टील कंपनी के आरोपी कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया है. (प्रतिकात्मक फोटो)

पटना. राजधानी पटना में पिछले दिनों 57 लाख 49 हजार की लूट हुई थी. लूट की यह घटना स्टील कंपनी अंकित मेटल एंड पावर लिमिटेड के एग्जीबिशन रोड स्थित कैश कलेक्शन ऑफिस से हुई थी. लेकिन अब इस लूट की वारदात में नया मोड़ आ गया है. दरअसल, कर्मचारी ही इस पूरे वारदात का मास्टरमाइंड निकला. पुलिस ने आरोपी कर्मी रवि भास्कर को गिरफ्तार कर लिया है. वह एनटीपीसी थाना क्षेत्र के रैली गांव का रहने वाला है. उसके साथ लूट की इस वारदात को अंजाम देने में उसके दो दोस्त समेत एक रिश्तेदार के शामिल होने की बात कही जा रही है.

लूट की इस वारदात के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी रवि की निशानदेही पर कदमकुआं स्थित बुद्ध मूर्ति के पास उसके भाई के घर से 39.80 लाख रुपये की बरामदगी की है. बहरहाल, बाकी रकम और दो अन्य फरार आरोपियों की तलाश जारी है. एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा के मुताबिक, एक सितंबर की शाम सात बजे किसी ने फोन किया और एग्जीबिशन रोड स्थित आनंद टावर के तीसरे फ्लोर पर 57 लाख की लूट जानकारी दी. लेकिन पुलिस ने जब मामले की पड़ताल शुरू की तो वारदात का मास्टरमाइंड कर्मचारी ही निकला.

बिहार पंचायत चुनाव 2021: उम्मीदवारों को नामांकन से पहले देना होगा आपराधिक मुकदमों का विवरण

एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा के मुताबिक, इस लूट की वारदात के बाद कंपनियों के अधिकारियों ने मामला दर्ज नहीं करवाया, लेकिन पूरे मामले की जांच के लिए एक विशेष टीम का गठन किया गया. कंपनी के स्टाफ रवि के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई. लेकिन स्टाफ रवि से पूछताछ के दौरान बार-बार बयान में अंतर देखने को मिला. पुलिस का शक तब और भी गहरा गया जब टावर में लगे सीसीटीवी फुटेज से उसके बयान मेल नहीं खा रहे थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें