पटना: प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना इलाज का अधिकतम फीस तय, ट्रीटमेंट रेट कार्ड

Smart News Team, Last updated: 21/08/2020 08:53 PM IST
  • पटना में कोरोना इलाज के लिए प्राइवेट अस्पतालों का अधिकतम शुल्क तय हो गया है. जिसके बाद राजधानी के निजी हॉस्पिटल में आईसोलेशन के लिए अधिकतम 10 हजार रुपए प्रतिदिन देने होंगे.
पटना के कोरोना अस्पताल में आइसोलेशन में रहने के प्रतिदिन अधिकतम 10 हजार रुपए देने होंगे.

पटना. बिहार में कोरोना संक्रमितों के लिए निजी अस्पतालों में अधिकतम शुल्क निर्धारित कर दिया गया है. बिहार सरकार ने राज्य के शहरों को तीन श्रेणी में बांटा गया है. पटना को ए श्रेणी में रखा गया है. इसके अलावा मुजफ्फपुर, भागलपुर, दरभंगा, गया और पूर्णिया को बी श्रेणी में रखा गया है. वहीं राज्य के अन्य शहरों को सी श्रेणी में जगह दी गई है.

कोरोना संक्रमितों को पटना के निजी अस्पतालों के कोविड आइसोलेशन वार्ड में रहने के लिए प्रतिदिन अधिकतम 10 हजार रुपए देने होंगे. वहीं आईसीयू में भर्ती मरीजों को 15 हजार रुपए का खर्च आएगा. यदि किसी मरीज को आईसीयू में वेंटिलेटर की जरूरत पड़ती है तो उसके लिए प्रतिदिन 18 हजार रुपए की सीमा को तय किया गया है.  

पटना हाईकोर्ट ने लैब टेक्नीशियन की नियुक्ति पर लगाई रोक, 12 सितंबर को सुनवाई

बिहार में कोरोना का प्रकोप हर दिन बढ़ता जा रहा है. सरकार ने संक्रमण की कड़ी को तोड़ने के लिए 6 सितंबर तक लॉकडाउन भी बढ़ा दिया है लेकिन प्रतिदिन 2 हजार से अधिक कोरोना संक्रमित सामने आ रहे हैं.  

पटना प्राइवेट कोविड अस्पताल चार्ज

पटना में कोरोना का प्रकोप, मिले 367 कोविड मरीज, जानें बिहार का हाल

गुरुवार को पटना में 367 कोविड संक्रमितों की पहचान की गई. वहीं राज्य में 1 लाख 15 हजार से ज्यादा कोरोना मरीज हो गए हैं. पटना के अलावा अन्य जिलों में भी कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है.  

 

पटना प्राइवेट कोविड अस्पताल चार्ज
आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें