पटना

पटना के निजी अस्पतालों में कोरोना इलाज का खर्च होगा तय, प्रशासन ने मांगा ब्योरा

Smart News Team, Last updated: 28/07/2020 05:03 PM IST
  • पटना के निजी अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज का खर्च निर्धारित किया जाएगा. इसके लिए जिला प्रशासन ने राजधानी के 19 निजी अस्पतालों से खर्च का ब्योरा मांगा है. 
पटना के निजी अस्पतालों में कोरोना इलाज का खर्च होगा तय, प्रशासन ने मांगा ब्योरा

पटना के निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के इलाज पर होने वाला खर्च तय किया जाएगा. इसके लिए पटना जिला प्रशासन ने शहर के 11 निजी अस्पतालों से कोरोना के इलाज में होने वाले खर्च का ब्योरा मांगा है. इससे पहले भी कहा गया था कि डीएम निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के इलाज का खर्च तय करेंगे. 

जिला प्रशासन ने कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे निजी अस्पतालों से पूछा है कि इस बीमारी के उपचार के लिए उनके अस्पतालों में की गई व्यवस्था में सामान्य तौर पर एक मरीज पर कितना खर्च आएगा. खर्च किन-किन चीजों पर कितना है, इसकी पूरी जानकारी मांगी गई है. खर्च तय होने के बाद निजी अस्पताल अपनी मर्जी से मरीज से रकम नहीं वसूल पाएंगे.

नहीं चलेगी निजी अस्पतालों की मनमानी, डीएम तय करेंगे कोरोना इलाज का शुल्क

उसके बाद जिला प्रशासन दिल्ली, गुजरात, कर्नाटक, महाराष्ट्र आदि राज्यों में निजी अस्पताल के लिए निर्धारित दर के मॉडल के आधार पर पटना में भी रेट निर्धारित करेगा. डीएम कुमार रवि ने डीडीसी की अध्यक्षता में कमेटी गठित कर दी है. डीडीसी ने बताया कि कुछ और अस्पतालों को पैनल में शामिल किया जाना है. 

कोरोना लॉकडाउन में लापरवाही पड़ रही पटना को भारी, कोविड 19 संक्रमण बेलगाम

अस्पतालों की अंतिम सूची बनने पर दर निर्धारण से संबंधित सभी विषय पर चर्चा होगी. अस्पताल के बेड, स्टाफ, पीपीई किट, पैथोलॉजी आदि में होने वाले खर्च से संबंधित विवरण जल्द मांगा गया है. बता दें कि वर्तमान में पटना शहर के 11 निजी अस्पतालों में कोरोना के लिए व्यवस्था की गई है. कुछ और अस्पतालों ने आवेदन दिया है, जहां प्रशासनिक स्वीकृति मिलने के बाद उपचार शुरू होगा.

अन्य खबरें