पटना

रातभर हुई झमाझम बारिश से डर गया पटना, सड़कों पर जलजमाव, खौफ के साए में बीती रात

Smart News Team, Last updated: 19/06/2020 10:05 AM IST
  • बिहार की राजधानी पटना में गुरुवार की देर रात तक खूब बारिश हुई। पटना और आस-पास के इलाकों में हुई झमाझम बारिश ने लोगों न सिर्फ नीदें उड़ा दीं, बल्कि डरा भी दिया। बारिश इतनी तेज हो रही थी कि लोगों को पिछले साल का डर सताने लगा था।
पटना में हुई रातभर बारिश ने लोगों को डरा दिया।

बिहार की राजधानी पटना में गुरुवार की देर रात तक खूब बारिश हुई। पटना और आस-पास के इलाकों में हुई झमाझम बारिश ने लोगों न सिर्फ नीदें उड़ा दीं, बल्कि डरा भी दिया। बारिश इतनी तेज हो रही थी कि लोगों को पिछले साल का डर सताने लगा था। मॉनसून की शुरुआती बारिश की स्थिति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पटना में एक घंटे में ही लगभग 10 मिमी बारिश हो गई। हालांकि, यह बारिश देर रात तक होती रही, जिसकी वजह से निचले इलाकों में पानी भर गया है।

दरअसल, पिछले साल इसी समय पटना भारी बारिश की वजह से डूब गया था। पिछले साल करीब 15-20 दिनों पटना में बाढ़ जैसा नजारा रहा था। पटना के कदमकुआं, राजेंद्रनगर और कंकड़बाग के कई इलाकों में कमर से अधिक तक पानी जमा हो गया था। हालांकि, पटना में शुक्रवार की सुबह बारिश थमी हुई है, मगर मौसम विभाग की चेतावनी है कि अभी खतरा टला नहीं है।

पटना में बारिश के बाद जलजमाव

पटना के मौसम विभाग की मानें तो पटना और आस-पास के इलाकों में अभी दो-तीन दिनों तक बारिश के हालात बने रहेंगे। अगर इसी तरह झमाझम बारिश होती रही तो पटना में जलजमाव की विकट स्थिति पैदा हो सकती है। पटना में बारिश से लोगों को गर्मी से छुटकारा तो जरूर मिला है, मगर सड़कों पर जलजमाव से उनकी परेशानियां बढ़ गई हैं। झमाझम बारिश की वजह से लोगों को सड़कों पर निकलने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

पिछले साल की यादों से सहमे लोग

पटना में मॉनसून ने जोरदार तरीके से दस्तक दी है। हर दिन रुक-रुक कर बारिश हो जा रही है। पिछले कुछ दिनों से पटना में लगातार रुक-रुक कर बारिश देखने को मिल रही है। मगर गुरुवार को स्थिति भयावह थी, क्योंकि गुरुवार को शाम से हुई बारिश देर रात तक होती रही। पटना में पिछले चौबीस घंटे में 9.7 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। जिसकी वजह से लोगों को पिछले साल की बुरी और भयावह यादें ताजा हो गईं।

खौफ के साए में बीती रात

बारिश की वजह से पटना के कंकड़बाग, कदमकुआं और राजेंद्र नगर के लोग रातभर खौफ का साए में जागते रहे। लोगों को डर सता रहा था कि क्या पिछली बार की तरह फिर से जलप्रलय झेलना पड़ेगा। लोगों की रात बड़ी मुश्किल से कटी और बार-बार रात में बॉलकनी से लोग सड़कों की हालत देख रहे थे। हर कोई सोशल मीडिया पर अपना डर जाहिर कर रहा था। 

अन्य खबरें