अब पटना से दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस के किराए में करें तेजस ट्रेन का सफर

ABHINAV AZAD, Last updated: Wed, 25th Aug 2021, 9:29 AM IST
  • राजेंद्रनगर टर्मिनल-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन अब तेजस के रेक से चलाई जाएगी. इससे यात्रियों को अत्याधुनिक सुविधाओं का लाभ मिलेगा. साथ ही राजधानी पटना की दिल्ली से कनेक्टिविटी भी बेहतर होगी.
राजेंद्रनगर टर्मिनल-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन अब तेजस के रेक से चलाई जाएगी.

पटना. रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर है. दरअसल, 02309/02310 राजेंद्रनगर टर्मिनल-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन अब तेजस के रेक से चलाई जाएगी. इससे यात्रियों को अत्याधुनिक सुविधाओं का लाभ मिलेगा. साथ ही राजधानी पटना की दिल्ली से कनेक्टिविटी भी बेहतर होगी. सीपीआरओ राजेश कुमार के मुताबिक, अच्छी बात यह है कि राजधानी एक्सप्रेस के तेजस के रूप में चलाए जाने के बाद भी किराया पहले की तरह लगेगा. एक सितंबर से इस ट्रेन को तेजस के रूप में चलाया जाएगा.

मिली जानकारी के मुताबिक, तेजस रेक ऑटोमेटिक प्लग इनडोर प्रणाली से युक्त है. मतलब, इसके दरवाजे ऑटोमेटिक रूप से खुलेंगे. इस तरह जब तक सारे दरबाजे बंद नहीं होंगे तब तक ट्रेन नहीं खुलेगी. इसके अलावा ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को सीसीटीवी कैमरा की निगरानी, तेजस रेक के प्रत्येक कोच में यात्रियों को यात्रा संबंधी महत्वपूर्ण सूचनाएं जैसे अगला स्टेशन, शेष दूरी, आगमन/प्रस्थान का अपेक्षित समय, विलंब और सुरक्षा संबंधी संदेश मिलेगा.

17 महीने बाद पटना के गांधी घाट पर गंगा आरती, मौके पर कई मंत्री रहे मौजूद

मिली जानकारी के मुताबिक, ट्रेन के प्रत्येक कोच के में दो एलसीडी डिस्प्ले लगे होंगे. इसके अलावा सभी कोचों में पर्दे की जगह रोलर ब्लाइंड होंगे जो साफ-सफाई को आसान बनाएगा. एसी द्वितीय एवं तृतीय श्रेणी के कोचों में साईड लोअर बर्थ की बनावट में बदलाव लाते हुए उसे सिंगल पीस बेड का रूप दिया गया है. साथ ही ऊपर की बर्थ पर जाने के लिए सुविधाजनक व्यवस्था की गई है. प्रत्येक बर्थ के पास मोबाइल चार्जिंग पॉइंट होगा. बोगियों में एयर स्प्रिंग सस्पेंशन होगा. सभी कोचों में ऑटोमेटिक फायर अलार्म और डिटेक्शन सिस्टम होगा. जबकि इसके अलावा नए वायरिंग के साथ व्हील स्लाईड प्रोटेक्शन डिवाईस होगा. सभी कोच में बायो-वैक्यूम टॉयलेट होगा. महिला यात्रियों के लिए शौचालय में शिशु देखभाल हेतु ‘‘इफैंक केयर सीट होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें