पटना: रिकवरी एजेंट की दादागिरी, कार में बैठी गर्भवती सहित परिवार से मारपीट

Smart News Team, Last updated: Fri, 4th Jun 2021, 10:50 AM IST
पटना शहर में कार से इलाज कराने के लिए जा रहे एक परिवार को फाइनेंस कंपनी का रिकवरी एजेंट रोक कर गुंडागर्दी करने लगा. कार में बैठे लोगों ने आरोप लगाया कि रिकवरी एजेंट ने कार में बैठी गर्भवती महिला के साथ भी मारपीट किया.
रिकवरी एजेंट EMI के लिए मारपीट किया जबकि कार के मालिक का दावा कि उसने सभी EMI भर दिया है. (प्रतीकात्मक फोटो)

पटना : बुधवार के दिन अपने कार से पटना इलाज कराने जा रहे एक परिवार को फाइनेंस रिकवरी एजेंट ने जीरो माइल के पास रोक कर ईएमआई के पैसे को लेकर उनसे मारपीट, कपड़ा फाड़ा और जबरन उनसे कार छीन कर लेकर जाने की कोशिश करने लगा. परिवार ने आरोप लगाया कि रिकवरी एजेंट ने कार में बैठे गर्भवती महिला के साथ भी मारपीट किया है. परिवार ने फाइनेंस रिकवरी एजेंट के खिलाफ अगमकुआं में लिखित शिकायत दर्ज करवा दिया.

कार मालिक ने बताया है कि फाइनेंस रिकवरी एजेंट उनसे 10 हजार रुपए की मांग कर रहे है. जबकि उन्होंने कार की जनवरी माह तक की ईएमआई जमा करा दिए है. अब ये समझ नहीं आ रहा है कि फाइनेंस कंपनी रिकवरी एजेंट किस लिए पैसे मांग रहे हैं. दरअसल कार से नीतीश कुमार, जितेंद्र, पंकज और भाभी अपने कार से पटना शहर जा रहे थे. इसी दौरान रिकवरी एजेंट बताते हुए रोहित संदीप और उसके साथियों ने कार रुकवा दिया.

पटना में लॉकडाउन की उड़ी धज्जियां, बर्थडे पार्टी में बार-बालाओं का डांस, 11 गिरफ्तार

उसके बाद उनसे कार की ईएमआई के रूप में 10 हजार मांगने लगा. परिवार के मना करने पर रिकवरी एजेंट ने कार में बैठे लोगों के साथ मारपीट करने लगा. हद तो तब हो गई जब परिवार को जबरदस्ती नीचे उतारकर कार ले जाने की कोशिश करने लगा. अंत में मामला पुलिस थाने में जाकर शांत हुआ.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें