फिर टूटेगा कुदरत का कहर? पटना में 48 घंटे तक वज्रपात और बारिश की चेतावनी

Smart News Team, Last updated: 03/07/2020 09:58 AM IST
  • राजधानी पटना समेत बिहार के कई हिस्सों में कुदरत का कहर देखने को मिल रहा है। मौसम विभाग की मानें तो पटना में अगले 48 घंटे में वज्रपात की संभावना है।
बिहार में ठनका का कहर, 22 लोगों की मौत

राजधानी पटना समेत बिहार के कई हिस्सों में कुदरत का कहर देखने को मिल रहा है। मौसम विभाग की मानें तो पटना में अगले 48 घंटे में वज्रपात की संभावना है। पटना मौसम विज्ञान केंद्र ने पटना समेत राज्य के अलग-अलग हिस्सों में 48 घंटे तक ठनका गिरने का अलर्ट जारी किया है। इतना ही नहीं, पटना समेत इन इलाकों में गरज-तड़क के साथ बारिश की भी संभावना है।

बता दें कि इससे पहले पटना समेत राज्य के जिलों में कुदरत का कहर दिखा और वज्रपात से करीब 27 लोगों की जान चली गई। पटना में ठनका गिरने से 6 लोगों की मौत हो गई, जिनमें एक छह साल की मासूम बच्ची भी शामिल है।

पटना स्थित मौसम विज्ञान केंद्र के डायरेक्टर विवेक सिन्हा ने कहा 'अगले 48 घंटे तक राज्य में ऐसी परिस्थितियां बन रही हैं, जिसके अनुसार कई जिले वज्रपात से प्रभावित होंगे। लोगों से बेवजह घरों से बाहर न निकलने और सतर्क रहने की अपील की गई है। उन्होंने कहा कि थंडरस्टोर्म के सेल एक जगह बनकर हवाओं की गति और तापमान की स्थिति के हिसाब से इधर-उधर मूवमेंट करते रहते हैं। रडार पर मिलने वाले संकेतों के आधार पर आपदा विभाग सहित विभिन्न माध्यमों से लोगों तक इसकी सूचना पहुंचाई जा रही है।'

व्रजपात या बिगड़ते मौसम में ऐसे रखें अपना खयाल

1. अगर बादल गरज रहे हैं और आप घर से बाहर हैं तो ऊंचे पेड़ों की शरण न लें। बारिश से बचने के लिए भी ऐसा न करें सिर्फ छोटे पेड़ों के आसपास रहें।

2. अगर आप खुले आसमान के नीचे अकेले फंसे हैं तो कोशिश करें कि किसी गड्ढे या नीची चट्टान की ओट ले ली जाए।

3. बाहर निकलते समय सिर्फ उसी छतरी का इस्तेमाल करें जिसका हैंडल किसी और धातु के बजाय लकड़ी का लगा हो।

4. किसी भी हालत में अपने आसपास कोई भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसे लैपटॉप या मोबाइल फोन आदि चालू न रखें।

5. बिजली के खंभों और टावरों से बचें, वाहनों से निकलकर सुरक्षित स्थान पर जाएं।

6. आकाश में बिजली चमकते समय धातु के तारों, खिड़की, ग्रिल आदि से दूर रहें। उस दौरान बिजली का हर उपकरण बंद रखें।

अन्य खबरें