पटना बाइपास के इलाके में सड़क किनारे मेट्रो लाइन के लिए पाइलिंग प्रक्रिया शुरू

Smart News Team, Last updated: 14/12/2020 06:38 PM IST
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शिलान्यास 17 फरवरी 2019 को पटना मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यास किया गया था. इस योजना पर काम शुरू कर दिया गया है और पटना में मेट्रो के लिए दो कॉरिडोर बनाए जाएंगे.
पटना मेट्रो रेल का निर्माण कार्य दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के द्वारा किया जा रहा है

पटना. पटना बाइपास के इलाकों में कई जगहों पर पटना मेट्रो निर्माण का कार्य शुरू कर दिया गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल पटना मेट्रो का काम समय पर पूरा होने की उम्मीद है. इस मेट्रो रेल परियोजना के लिए 13 हजार 365 करोड़ से अधिक का बजट पास किया गया है. पटना में मेट्रो के लिए दो कॉरिडोर होंगे. कॉरिडोर एक में दानापुर खेमनीचक और दो में गांधी मैदान पाटलिपुत्र बस अड्डा होगा. 

भूमि जांच व निविदा प्रक्रिया के बाद बाइपास इलाके में सड़कों के किनारे पटना मेट्रो की लाइन के लिए पाइलिंग की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. मलाहीपकड़ी इलाके से राजेंद्र होते हुए बाइपास से आगे पाटलीपुत्र अंतरराज्यीय बस टर्मिनल तक मेट्रो लाइन बिछाने का निर्माण कार्य शुरू हो गया है. इस मेट्रो रेल परियोजना के लिए 20 फीसदी बिहार, 20 फीसदी केंद्र और बाकी 60 फीसदी जापान इंटरनेशनल कारपोरेशन एजेंसी से भी लोन लिया जाएगा. पटना मेट्रो पर तेजी से काम के लिए पटना मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड का भी गठन भी किया गया है. 

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग संवाद में CM नीतीश बोले- मौसम के अनुसार खेती करें किसान

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसके शिलान्यास कार्यक्रम में कहा था कि पटना मेट्रो का काम पांच वर्षो के अंदर पूरा हो जाएगा. इसका शिलान्यास 17 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से किया गया था. पटना मेट्रो रेल का निर्माण कार्य दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के द्वारा किया जा रहा है. इससे पटना के विकास के साथ लोगों को भी शहर के ट्रैफिक से राहत मिलेगी और लोगों को एक जगह से दूसरी जगह जाने में आसानी होगी. फिलहाल योजना पर काम शुरू कर दिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें