बिहार में चिराग के एनडीए में रहने या न रहने को लेकर सियासत तेज, भाजपा मंत्रियों ने शुरू की बयानबाजी

Shubham Bajpai, Last updated: Tue, 14th Sep 2021, 7:11 AM IST
  • पटना में अब चिराग के एनडीए में रहने को लेकर राजनीति शुरू हो गई है. बिहार में एनडीए सरकार में मंत्री नीरज बब्लू जहां उन्हें एनडीए का हिस्सा बता रहे हैं. वहीं, सम्राट चौधरी उनपर बिहार विधानसभा चुनाव एनडीए के खिलाफ लड़ने का आरोप लगा रहे हैं. हालांकि एनडीए में इसको लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.
बिहार में चिराग के एनडीए में रहने या न रहने को लेकर सियासत तेज

पटना. राजधानी पटना में रामविलास पासवान की बरसी में आयोजित कार्यक्रम के बाद से एनडीए में चिराग के रहने या न रहने को लेकर दो धड़े तैयार हो गए हैं. जिसमें एक का कहना है कि चिराग पासवान एनडीए का हिस्सा है. वहीं, दूसरा धड़ा उनके एनडीए में होने का विरोध कर रहा है और उन पर बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए के विरोध जाने का आरोप भी लगा रहा है. बिहार की राजनीति में काफी समय से मचे भूचाल में एनडीए के नेताओं की ये टिप्पणी कहीं न कहीं हलचल मचा सकती है. वहीं, एनडीए ने अभी कोई भी आधिकारिक बयान इसे लेकर नहीं दिया है.

वन पर्यावरण मंत्री ने कहा है एनडीए का हिस्सा

चिराग के एनडीए में रहने के मामले में वन पर्यावरण मंत्री बब्लू ने कहा कि किसी से किसी की नजदीकी बढ़ सकती है, लेकिन चिराग पासवान के कहीं जाने की कोई बात नहीं है. चिराग पासवान एनडीए का पार्ट हैं और आगे भी मुझे लगता है वो एनडीए का पार्ट बने रहेंगे.

CM बोले कौन बदल देगा बख्तियारपुर का नाम, BJP विधायक लाएंगे नीतीश नगर नाम का प्रस्ताव

शीर्ष के नेता बताएंगे इस पर स्थिति

बिहार के पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा एनडीए के खिलाफ लड़ी थी. आज एनडीए की संरचना क्या है, इस पर हमारे गठबंधन के शीर्ष नेता ही बता पाएंगे. अभी हम इस पर कुछ आधिकारिक रूप से नहीं बोल सकते हैं. वहीं, रामविलास पासवान की बरसी पर आय़ोजित समारोह में सीएम समेत कई प्रमुख नेता के न जाने पर उन्होंने कहा कि जाना न जाना सबकी स्वतंत्रता है. रामविलास पासवान बिहार के बड़े नेता थे, सभी ने अपने तरीके से उन्हे श्रद्धांजलि दी.

पटना की शू लांड्री: पुराने जूते नए जैसे चमकाने वाली शाजिया ने साबित कर दिया 'कोई धंधा छोटा नहीं होता'

पासवान की पहली बरसी के बाद से बढ़ी हलचल

चिराग पासवान ने पिता और वरिष्ठ नेता रामविलास पासवान की बरसी के बहाने एक राजनैतिक संदेश देने का काम भी किया. इस कार्यक्रम में कई नेता पहुंचे, लेकिन सीएम नीतीश कुमार के न पहुंचने से कई कयास लगाए जा रहे हैं. जिसमें उनके एनडीए में होने को लेकर भी संशय की स्थिति में है, हालांकि इसको लेकर चिराग की तरफ से कोई भी बयान सामने नहीं आया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें