पटना AIIMS में पोस्ट कोविड मरीजों के लिए कल से OPD शुरू, ठीक हुए मरीज करा सकेंगे इलाज

Smart News Team, Last updated: Thu, 24th Sep 2020, 5:46 PM IST
बिहार में शुक्रवार से पोस्ट कोरोना मरीजों के लिए ओपीडी शुरू की जा रही है. कोरोना के बाद ठीक हुए मरीजों को अगर कोई दिक्कत आती है तो वे इस नई ओपीडी में इलाज करा सकते हैं.
पटना एम्स में कल से कोरोना से ठीक हुए मरीज ओपीडी में इलाज करा सकते हैं.

पटना. बिहार में कोरोना का संक्रमण तैजी से फैल रहा है. बिहार में ऐसे भी केस सामने आ रहे हैं जिनमें कोरोना से ठीक होने वाले लोगों को कई परेशानियां आ रही हैं. जिसको देखते पटना एम्स में शुक्रवार से पोस्ट कोविड ओपीडी शुरू हो जाएगा. पटना एम्स में अब संक्रमण के बाद स्वस्थ लोगों का भी इलाज किया जाएगा.

शुक्रवार से पटना एम्स में कोरोना से स्वस्थ होने वाले लोगों के लिए ओपीडी शुरू हो रही है. पटना एम्स बिहार का पहला ऐसा अस्पताल होगा जहां पर कोरोना से ठीक हुए लोगों का इलाज किया जाएगा. कोविड पोस्ट ओपीडी में इलाज के लिए मरीजों को अपने साथ पहले की इलाज की रिपोर्ट को लाना होगा. इसके अलावा होम क्वारंटीन में रहने वाले लोग भी अपना इलाज यहां करा सकते हैं. अस्पताल प्रशासन ने बताया कि ओपीडी में ऐसे लोगों का इलाज किया जाएगा जो कम से कम 20 दिन पहले कोरोना से संक्रमित हुए थे.

वीआरएस नहीं लेता तो चुनाव आयोग DGP पद से हटाकर बेइज्जती करता: गुप्तेश्वर पांडेय

फिलहाल पटना एम्स में जो ओपीडी है उसमें कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज किया जाता है. इससे मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इसी को देखते हुए संस्थान के पल्लमोनरी मेडिसन विभाग की ओर से कोविड पोस्ट मरीजों के लिए ओपीडी शुरू करने का सुझाव दिया गया था. जिसके बाद अब शुक्रवार से कोविड पोस्ट मरीजों के लिए ओपीडी शुरू हो रही है.

RJD का कृषि बिल विरोध, ट्रैक्टर पर चढ़े तेजस्वी, 25 सितंबर को बिहार में प्रदर्शन

आपको बता दें कि बिहार में बीते 24 घंटों में कोरोना के 1598 नए केस सामने आए हैं. जिसके बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1 लाख 73 हजार से ज्यादा हो गई है. राज्य में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले राजधानी पटना से सामने आ रहे हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें