खनिज से कमाएगा बिहार, रोहतास, औरंगाबाद और गया में मिला पोटेशियम, क्रोमियम भंडार

Swati Gautam, Last updated: Mon, 22nd Nov 2021, 5:15 PM IST
  • बिहार के रोहतास, औरंगाबाद और गया जिले में तीन पोटेशियम के और एक क्रोमियम के ब्लॉक मिले हैं. जिनकी खुदाई जल्द शुरू हो जाएगी. कीमती खनिजों मिलने से राज्य सरकार की आर्थिक स्थिति मजबूत तो होगी और बड़ी संख्या में युवाओं और मजदूरों को रोजगार के अवसर भी मिलेंगे.
खनिज से कमाएगा बिहार, रोहतास, औरंगाबाद और गया में मिला पोटेशियम, क्रोमियम भंडार

पटना. बिहार के लोगों के लिए एक खुशखबरी है. राज्‍य के खान एवं भूतत्व मंत्री जनक राम ने यह जानकारी दी है कि बिहार के तीन जिलों में काफी कीमती खनिज मिले हैं जिनमें रोहतास, औरंगाबाद और गया जिले का नाम शामिल है. जल्द ही तीनों जिलों में खुदाई का काम शुरू हो जाएगा और पाए जाने वाले खनिजों की जल्द ही नीलामी की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी. राज्य में इन कीमती खनिजों के मिलने के बाद राज्य सरकार की आर्थिक स्थिति मजबूत तो होगी ही साथ-साथ बड़ी संख्या में युवाओं और मजदूरों को रोजगार के अवसर भी मिलेंगे.

मंत्री जनक राम ने खबर की सूचना देते हुए बताया कि केंद्र सरकार को क्रोमियम और पोटेशियम के चार खनिज ब्लॉक मिले हैं. बिहार के तीन पोटेशियम के और एक क्रोमियम के ब्लॉक मिले हैं. उन्होंने आगे बताया कि सासाराम-रोहतास में 10 वर्ग किमी का नड़वाडीह ब्लॉक, आठ वर्ग किमी में टीपा खनिज ब्लॉक और शाहपुर में सात वर्ग किमी में ब्लॉक हैं. ये तीनों पोटेशियम के ब्लॉक हैं. वहीं, औरंगाबाद-गया में आठ वर्ग किमी का क्रोमियम के ब्लॉक हैं.

आधी रात भूत के साथ खेल रहा था कुत्ता, CCTV फुटेज देख सदमें में मालिक

मंत्री जनक राम ने यह भी बताया कि केंद्र ने इन कीमती खनिजों की पुष्टि के बाद बिहार खनन विभाग को खुदाई करने की मंजूरी दे दी है. शीघ्र ही इनकी नीलामी की प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी. कहा जा रहा है कि जब बिहार के रोहतास, औरंगाबाद और गया जिले में खनन का काम शुरु हो जायेगा इससे आसपास के जिलों की सूरत बदल जाएगी. काम ने लोगों की जरूरत होगी जिससे राज्य में अनपढ़ से लेकर पढ़े-लिखे लोगों को रोजगार का मौका मिलेगा. जानकारी अनुसार राज्य सरकार बहुत जल्द इन ब्लॉक की खुदाई शुरु करेगी. इसके लिए विभागीय स्तर पर तैयारियां की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें