बिहार में पंचायत चुनाव के लिए ईवीएम खरीद की तैयारी तेज, हैदराबाद से आएंगी ईवीएम

Smart News Team, Last updated: 06/02/2021 03:23 PM IST
  • पंचायत चुनाव को लेकर ईवीएम को खरीदने के लिए पंचायती राज विभाग ने प्रस्ताव तैयार कर लिया है. इस प्रस्ताव पर नीतीश कैबिनेट की मंजूरी मिलते ही ईवीएम को खरीदा जाएगा.
बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मुजफ्फरपुर में ईवीएम मॉक पोल.

पटना: पंचायत चुनाव को लेकर ईवीएम को खरीदने की तैयारियों तेज हो गई हैं. इसके लिए पंचायती राज विभाग ने प्रस्ताव तैयार कर लिया है. इस प्रस्ताव पर नीतीश कैबिनेट की मंजूरी मिलते ही ईवीएम को खरीदा जाएगा. भारत इलेक्ट्रॉनिक निगम लिमिटेड, हैदराबाद से ईवीएम को जल्द से जल्द खरीदे जाने की उम्मीद है.

दरअसल ईवीएम डिज़ाइन और खरीद को लेकर आवश्यक प्रक्रिया पहले से ही शुरू हो चुकी है. इस मामले में पंचायती राज विभाग ने राज्य निर्वाचन आयोग को अपनी सहमति भी दी है. अब सिर्फ नीतीश कैबिनेट से मंजूरी मिलनी बाकी है, ताकि संबंधित कंपनी से ईवीएम की खरीद की जा सके.

सचिन तेंदुलकर पर बयान को लेकर घिरे शिवानंद तिवारी, RJD न करे राजनीति: सुशील मोदी

विभागीय पदाधिकारियों का कहना है कि भारत सरकार के उपक्रम भारत इलेक्ट्रॉनिक निगम लिमिटेड मल्टीपोस्ट ईवीएम बनाती है. बिहार में पहली बार इस तरह की ईवीएम की खरीद की जा रही है.

पटना: शराबबंदी पर प्रशासन सख्त, शराब मिलने पर मकान और दुकान होगी नीलाम

पंचायती राज चुनाव में 6 अलग-अलग पद होते हैं. इसलिए इस चुनाव के लिए मल्टीपोस्ट ईवीएम की आवश्यकता है. हर पद के लिए अलग-अलग ईवीएम होगी. इस तरह हर बूथ पर 6-6 ईवीएम रखी जाएंगी, जिनके ज़रिए वोटर्स अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. एक ईवीएम में 15-16 प्रत्याशियों के नाम और चुनाव चिह्न होंगे. अगर इससे भी ज्यादा प्रत्याशी किसी पद के लिए होंगे, तो वहां दूसरे ईवीएम की भी जरूरत पड़ेगी. इसके लिए कुछ ईवीएम रिजर्व भी रखे जाएंगे. इस बार 90 हजार ईवीएम की खरीद होगी. इन 90 हजार के लिए 15 हजार कंट्रोल यूनिट की खरीद होगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें